रणजी ट्रॉफी: दिल्ली ने किया मध्यप्रदेश को 9 विकेट से पराजित

इस प्रकार मेजबान टीम को जीत के लिए सिर्फ 29 रन का लक्ष्य मिला। जो उसने कुणाल चांदिला (6) का विकेट खोकर प्राप्त कर लिया।

लेग स्पिनर विकास मिश्रा की करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी (मैच में 71 रनों पर 12 विकेट) की मदद से दिल्ली ने रणजी ट्रॉफी एलीट समूह के लीग मैच के तीसरे दिन ही मध्यप्रदेश को 9 विकेट से पराजित किया। इस जीत से दिल्ली को 6 अंक मिले।

फिरोजशाह कोटला मैदान पर मप्र के पहली पारी में 132 रन के जवाब में दिल्ली ने पहली पारी में 261 रन बनाए।। 129 रन से पिछड़ी मध्यप्रदेश की दूसरी पारी 157 रन पर सिमट गई।

इस प्रकार मेजबान टीम को जीत के लिए सिर्फ 29 रन का लक्ष्य मिला। जो उसने कुणाल चांदिला (6) का विकेट खोकर प्राप्त कर लिया।

कुमार कार्तिकेय सिंह ने कुणाल को पगबाधा आउट किया। हितेन दलाल (15*) और ध्रुव शोरी (4*) ने जीत की औपचारिकता पूरी की।

इससे पहले मप्र को दूसरी पारी में आर्यमान विक्रम बिड़ला (32) और आनंदसिंह बैस (46) ने 83 रन जोड़कर अच्छी शुरुआत दी।

आर्यमान के कुलवंत खेजरोलिया की गेंद पर बोल्ड होने के बाद मप्र की पारी को बिखरने में देर नहीं लगी। विकास ने शिवम शर्मा के साथ मिलकर मप्र के शेष 9 बल्लेबाजों को 74 रन के अंदर पैवेलियन की राह दिखा दी।

छह बल्लेबाज दोहरी रनसंख्या को नहीं छू सके। विकास ने इस बार 30 रनों पर 6 विकेट लिए। शिवम को 3 विकेट मिले।

स्पिन पिच पर नहीं चले मिहिर :

फिरोजशाह कोटला की पिच आमतौर पर स्पिनरों के साथ रहती है फिर भी मप्र चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरा। मप्र के कप्तान नमन ओझा ने स्पिनर्स के बजाय तेज गेंदबाजों पर भरोसा किया।

हालांकि पहली पारी में तेज गेंदबाजों ने दिल्ली को समेटा लेकिन ये उसे बड़ी बढ़त लेने से रोक नहीं सके। नियमित के बजाय अनियमित स्पिनर शुभम पर भरोसा जताना आश्चर्य की बात है।

लेग स्पिनर मिहिर हिरवानी प्रदर्शन करे या ना करें, उनका स्थान तय। इन दोनों ने मिलकर 17.3 ओवर गेंदबाजी की और 67 रन देकर सिर्फ एक विकेट ले सके।

यह विकेट 13.3 ओवर में 44 रन देने वाले मिहिर को मिला। इसके विपरीत दिल्ली के स्पिनरों विकास व शिवम ने 69 ओवर में 171 रन देकर 18 विकेट चटकाए।

अगर मप्र टीम में विशेषज्ञ स्पिनर होता तो मैच का परिणाम इतना आसान नहीं होता। यूं भी चयन समिति की बैठक रणजी सत्र की शुरुआत में ही हुई थी। इसके बाद टीम में फेरबदल संचार माध्यम के जरिए हो रही है।

new jindal advt tree advt
Back to top button