जब भंसाली को मारा गया था ‘थप्पड़’, मारपीट पर उतारू हो गए थे रणवीर

फिल्म पद्मावत देश-विदेश में ताबड़तोड़ कमाई कर रही है. लेकिन फिल्म रिलीज करना भंसाली के लिए काफी जोखिम भरा है. यहां तक कि पिछले साल उन्होंने करणी सेना के उग्र प्रर्दशनकारियों से थप्पड़ भी खाया था.

फिल्म पद्मावत देश-विदेश में ताबड़तोड़ कमाई कर रही है. लेकिन फिल्म रिलीज करना भंसाली के लिए काफी जोखिम भरा है. यहां तक कि पिछले साल उन्होंने करणी सेना के उग्र प्रर्दशनकारियों से थप्पड़ भी खाया था.

फिल्म में खिलजी का रोल निभा रहे रणवीर सिंह ने हाल ही में कहा कि वह भंसाली के साथ मारपीट की खबर सुनकर बहुत गुस्से में आ गए थे. वे इस कदर आहत हुए कि मारपीट तक के लिए तैयार हो गए थे.

एक इंटरव्यू में रणवीर ने अपना दर्द बयां करते हुए कहा, मैं शब्दों में नहीं बता सकता कि उस वक्त मुझे क्या महसूस हुआ था. मैं बहुत गुस्से में आ गया था. इस दौरान मेरे आस-पास के लोगों ने मुझे शांत किया.

मैं वहां सेट पर जाने के लिए तैयार था. जानना चाहता था कि आखिर उन्होंने यह सब करने की हिम्मत कैसे की? जिस सेट के साथ तोड़फोड़ की गई वह हम आर्टिस्ट के काम करने की जगह है.

रणवीर ने आगे कहा, किसी को भी हक नहीं है कि वह फिल्म के सेट पर आकर ऐसा उपद्रव फैलाए. आप किसी पर हाथ नहीं उठा सकते. मुझे उस वक्त बहुत गुस्सा आ रहा था. लेकिन मैं शांत रहने के सिवा कुछ नहीं कर सकता था. इसलिए मैंने इन सभी चीजों का गुस्सा अलाउद्दीन खिलजी के रोल में उतार दिया.

फिल्म पद्मावत में रणवीर सिंह की अदाकारी काफी सराही जा रही है. कई सीन रणवीर के लिए फिल्माने बेहद मुश्क‍िल साबित हुए. रणवीर ने बताया कि एक सीन के दौरान उनकी सेहत ने उनका साथ छोड़ दिया था.

उन्होंने बताया, शूटिंग के दौरान मुझे फिजीकली चैलेंज का सामना ज्यादा करना पड़ा. न सिर्फ जौहर वाले सीन में बल्क‍ि पूरी फिल्म में. शूटिंग शुरू होने के बाद मैं काफी दबाव में था, क्योंकि मुझे एक साथ कई चीजें करनी थीं. शाहिद कपूर से युद्ध और खलीबली गाने के दौरान मैंने महसूस किया जैसे मेरा पैर ही न हो.

जौहर सीन के बारे में रणवीर ने बताया, कभी ऐसा लगता था कि कट बोला जाएगा और मैं उल्टियां कर दूंगा. मुझे याद है कि हम कितनी गर्मी के बीच मई के महीने में फिल्म सिटी में शूटिंग कर रहे थे. 45 डिग्री टेम्परेचर था.

मैं इतनी गर्मी में अपने शरीर पर 12 किलो का कॉस्ट्यूम पहने हुए था. मुझे लगातार दौड़ते रहना था. इसलिए कट बोले जाने के बाद मेरी आंखों के आगे धुंधलापन छा गया और मैं पूरी तरह सुन्न हो गया.

1
Back to top button