मेवाती घराने के शास्त्रीय संगीतज्ञ पंडित जसराज की जीवनी पढ़ेगा भारत

'रसराज : पंडित जसराज' अगस्त में होगी रिलीज

नई दिल्ली|

हिंदी की लेखिका सुनीता बुधिराजा द्वारा लिखी गई हिंदुस्तानी शास्त्रीय गायक पंडित जसराज की जीवनी देश में औपचारिक रूप से अगस्त में रिलीज होगी।

प्रकाशक ‘वाणी प्रकाशन’ ने कहा कि इससे पहले यह अमेरिका में रिलीज हो चुकी है। 534 पन्नों की किताब ‘रसराज : पंडित जसराज’ में उनके जन्म, तबला वादक बनने की यात्रा और हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत के प्रसिद्ध गायक बनने तक की सभी छोटी-बड़ी घटनाओं का उल्लेख किया गया है।

यह किताब ई-कॉमर्स वेबसाइट फ्लिपकार्ट और अमेजन पर हार्डकवर में 2,400 रुपये तथा पेपरबैक संस्करण में 895 रुपये में मिलेगी।

मेवाती घराने के संगीतज्ञ जसराज (88) को 1975 में पद्मश्री, 1990 में पद्मभूषण और 2000 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया जा चुका है।

‘रसराज : पंडित जसराज’ को कई वर्षो तक उनसे, दुनिया भर में फैले उनके शिष्यों, उनके परिजनों तथा उनके मित्रों से बात करने के बाद लिखा गया है।

बुधिराजा लिखित ‘सात सुरों के बीच’ किताब उस्ताद बिस्मिल्ला खान, पंडित किशन महाराज, पंडित जसराज, एम. बालमुरलीकृष्ण, पंडित शिवकुमार शर्मा, पंडित बिरजू महाराज और पंडित हरी प्रसाद चौरसिया से अनौपचारिक बातचीत तथा इनके निजी साक्षात्कारों पर आधारित थी।

Back to top button