हार के बाद शास्री ने तोड़ी चुप्पी, धोनी को बाद में भेजने का भी बताया राज़

सेमीफाइनल में धोनी को बाद के बैटिंग करने भेजने पर लोगों ने उठाये थे सवाल

नई दिल्ली: भारतीय टीम के कोच रवि शास्री ने भारत की सेमीफाइनल में हुई हार के बाद अब चुप्पी तोड़ी है और धोनी की बैटिंग पोजीशन पर भी चर्चा की। भारत की सेमीफाइनल में न्यूज़ीलैण्ड के हाथों हुई हार के बाद कई सवाल उठ रहे हैं जिसमे धोनी को बाद के बैटिंग आर्डर के अनुसार भेजने पर कई क्रिकेट के दिग्गजों ने हैरानी जताई थी।

रवि शास्त्री ने कहा,’धोनी को सातवें नंबर पर बैटिंग के लिए भेजने का फैसला पूरी टीम का था और ये एक आसान फैसला था। अगर धोनी पहले बैटिंग के लिए आते और वो जल्दी आउट हो जाते तो स्थिति और खराब हो जाती,हमें उनके अनुभव की बाद में जरूरत थी। धोनी दुनिया के सबसे बड़े फिनिशनर हैं और अगर हम उनका इस्तेमाल ऐसे नहीं करते तो फिर ये न्याय नहीं होता,टीम में हर कोई ये चाहता था कि वो बाद में बैटिंग करें।’

पहले विराट कोहली ने कहा था कि ‘शुरुआती कुछ मैचों के बाद यह प्लान किया गया था कि धोनी निचले ऑर्डर के बल्लेबाजों के साथ खेलेंगे। उन्होंने जडेजा के साथ अच्छी बल्लेबाजी की। टीम में सही बैलेंस होने की जरूरत है,अगर एक खिलाड़ी हिट कर रहा है,तो दूसरे को विकेट बचा कर खेलने की जरूरत होती है।’

बता दें की सेमीफाइनल में धोनी से ऊपर दिनेश कार्तिक, ऋषभ पंत और हार्दिक को भेजा गया था जिसके बाद उनके जल्दी आउट होने के बाद सवाल उठने लगे थे की आखिर धोनी को इनसे ऊपर क्यों नहीं भेजा गया। लोग इसे भी प्रमुख कारण मानते हैं। क्रिकेट दिग्गजों जैसे सौरव,सचिन और लक्ष्मण ने भी धोनी की पोजीशन पर सवाल उठाये थे।

Back to top button