आरबीआई ने जारी की डिफॉल्टरों की लिस्ट

भारतीय रिजर्व बैंक ने 30 बड़े विलफुल डिफॉल्टर्स का लिस्ट जारी किया है

नई दिल्ली: भारतीय रिजर्व बैंक ने 30 बड़े विलफुल डिफॉल्टर्स का लिस्ट जारी किया है। मनीकंट्रोल की एक रिपोर्ट में इस बारे में जानकारी दी गई है।

बता दें कि चार साल पहले सर्वोच्च न्यायालय ने केन्द्रीय बैंक को सभी विलफुल ​डिफॉल्टर्स की लिस्ट जारी करने का निर्देश दिया था। विलफुल डिफॉल्टर का मतलब होता है कोई भी व्यक्ति या कंपनी जिसके पास लोन चुकाने लायक रकम हो, लेकिन वह बैंक की किश्त अदा नहीं करे और बैंक उसके खिलाफ अदालत में चला जाए।

इस लिस्ट में मध्यप्रदेश के इंदौर शहर से माल्या से भी बड़ा घोटालेबाज सामने आया है। कारोबारी कैलाश सहारा की रुचि सोया और मुरैना के रमेशचंद्र गर्ग की केएस ऑयल का नाम इस लिस्ट में शामिल है। कैलाश सहारा की रुचि सोया शराब कारोबारी और भगोड़े विजय माल्या से दो पायदान ऊपर है। कैलाश सहारा के कर्ज न चुका पाने की राशि 3225 करोड़ रुपये है। जबकि माल्या का कुल बकाया 2488 करोड़ रुपये है।

RBI द्वारा एक RTI को दिए गए ​जवाब के मुताबिक, इन 30 विलफुल डिफॉल्टर्स की लिस्ट में 3 कंपनियां भगौड़ा हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी की हैं। इस आरटीआई के आधार पर एक मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि इन 30 कंपनियों द्वारा कुल डिफॉल्ट की रकम 50,000 करोड़ रुपये से अधिक की है। इसमें बैंकों द्वारा रिट ऑफ की गई रकम भी शामिल है।

ये हैं 10 सबसे बड़े कर्ज़दार
(1) गीतांजलि जेम्स लिमिटेड- 5044 करोड़ रुपये का कर्ज
(2) आरईआई एग्रो लिमिटेड- 4197 करोड़ रुपये का कर्ज
(3) विनसम डाइमंड एंड ज्वैलरी लिमिटेड- 3386 करोड़ रुपये का कर्ज
(4) रुचि सोया इंडस्ट्रीज- 3225 करोड़ रुपये का कर्ज
(5) रोटोमैक ग्लोबल- 2844 करोड़ रुपये का कर्ज
(6) किंगफिशर एयरलाइंस- 2488 करोड़ रुपये का कर्ज
(7) कुडोस केमी लिमिटेड- 2326 करोड़ रुपये का कर्ज
(8) जूम डेवल्पर्स- 2024 करोड़ रुपये का कर्ज
(9) डेक्कन क्रोनिकल- 1951 करोड़ रुपये का कर्ज
(10) एबीजी शिपयार्ड- 1875 करोड़ रुपये का कर्ज

इन प्रमुख कंपनियों का नाम शामिल-इन 30 विलफुल डिफॉल्टर्स की लिस्ट में गीतांजलि जेम्स, रोटोमैक ग्लोबल, जूम डेवलपर्स, डेक्कन क्रॉनिकल होल्डिंग्स, विनसम डायमंड्स, सिद्धी विनायक लॉजिस्टिक्स का नाम शामिल है।

Tags
Back to top button