कांग्रेस संचार प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी व संसदीय सचिव विकास उपाध्याय की प्रेस वार्ता पर पूर्व मंत्री व भाजपा प्रवक्ता राजेश मूणत की प्रतिक्रिया

भाजपा की लोकप्रियता के ग्राफ़ को लेकर दुबला न हों, बल्कि कांग्रेस की सियासी हैसियत की फ़िक्र करें

प. बंगाल में कांग्रेस शून्य, असम में बघेल को न ख़ुदा ही मिला- न विसाले सनम, केरल में कोई हैसियत नहीं रही, पुदुच्चेरी से निकाले गये, लोकसभा चुनाव में प्रदेश के 70 से अधिक विस क्षेत्रों में बुरी तरह पिछड़ी कांग्रेस के लोग अपनी किस लोकप्रियता के बढ़ने पर गाल बजा रहे हैं?

टूल किट को लेकर जाँच प्रक्रियाधीन होते हुए टि्वटर जाकर कांग्रेस ने भारतीय संप्रभुता और न्यायिक प्रक्रिया की अवमानना की, आख़िर टूल किट की प्रामाणिकता भारतीय जाँच एजेंसी तय करेगी या टि्वटर?

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता और पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने कांग्रेस संचार प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी और कांग्रेस संसदीय सचिव विकास की पत्रकार वार्ता पर प्रतिक्रिया व्यक्त की हैं।

उन्होंने उपाध्याय को नसीहत दी है कि टूल किट को लेकर भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा के ट्वीट को टि्वटर द्वारा मैनिपुलेटेड मीडिया की श्रेणी में लाए जाने पर इतना उछलने से बचें, क्योंकि कांग्रेस के आवेदन पर टि्वटर ने महज़ टैग लगाया है और यह शिकायत होने पर एक रूटीन प्रक्रिया है।

श्री मूणत ने शैलेश नितिन को भी नसीहत दी और कहा कि जिस कांग्रेस सरकार को ऑक्सीजन के लिए, टीके की विफ़लता के लिये रोज रोज़ ऊपरी अदालतों से फटकार लग रही हो, जो कोरोना के कठिन काल में अपनी पूरी जमात के साथ असम में बैठे रहा हो, जिसने क्रिकेट का मुफ़्त पास बांट बांट कर गांव गांव में क़ोरोना फैलाया हो, उस कांग्रेस के लोग भी अगर कोरोंना मामले में गाल बजा रहे, तो तरस ही खा सकते हैं उन पर।

श्री मूणत ने विधायक उपाध्याय द्वारा शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके टूल किट मामले को लेकर भाजपा के ख़िलाफ़ अनर्गल प्रलाप किए जाने पर भी पलटवार कर कहा कि उपाध्याय भाजपा की लोकप्रियता के ग्राफ़ को लेकर दुबला न हों, बल्कि कांग्रेस की सियासी हैसियत की फ़िक्र करें।

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता व पूर्व मंत्री श्री मूणत ने कहा कि टि्वटर द्वारा ट्वीट को महज़ टैग किए जाने पर कांग्रेस के लोग ऐसे ख़ुश हो रहे हैं, जैसे चीनी झड़प के समय भारत को कथित सरेंडर बताकर ख़ुश होते हैं। यह वही कांग्रेस है, जिसके नेता भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हराने की अपील करते पाकिस्तान से सहायता मांगने पहुँच जाते हैं।

श्री मूणत ने इस बात पर कड़ा ऐतराज़ जताया कि टूल किट को लेकर जब शिकायत पर जाँच प्रक्रियाधीन है तो उस स्थिति में टि्वटर तक जाकर कांग्रेस ने भारतीय संप्रभुता और न्यायिक प्रक्रिया की अवमानना का षड्यंत्रपूर्ण दुस्साहस किया है।

सवाल यह है कि टूल किट की प्रामाणिकता भारतीय जाँच एजेंसी तय करेगी या टि्वटर? अब भाजपा नेतृत्व कांग्रेस के इस दुस्साहस पर नकेल कसने क़ानूनी विकल्पों के बारे में विधि विशेषज्ञों से विचार-विमर्श कर रहा है।

श्री मूणत ने कहा कि जब टूल किट तैयार करने वाले राजीव गौड़ा ने मान लिया है कि यह उसके दफ़्तर में तैयार किया गया है, कांग्रेस विधायक स्वीकार कर रहे हैं कि टूल किट सही है तो फिर विवाद की नौबत पैदा करके कांग्रेस आख़िर हासिल क्या कर लेगी?

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता और पूर्व मंत्री श्री मूणत ने कहा कि अपनी विश्वसनीयता के गिरते ग्राफ़ से बेफ़िक्र कांग्रेस नेताओं को भाजपा और मोदी-सरकार की लोकप्रियता की चिंता सता रही है जबकि कांग्रेस की लोकप्रियता का आलम यह है कि प. बंगाल में वह शून्य हो चुकी है, असम में छत्तीसगढ़ का संसाधन लुटा कर भी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के हिस्से कुछ नहीं आया। वहां सब कुछ लुटाकर और बड़ी-बड़ी डींगे हाँककर भी मुख्यमंत्री बघेल को न ख़ुदा ही मिला, न विसाले सनम!

केरल में हर पाँचवें साल उसे मौक़ा मिलता था, आज वहाँ कांग्रेस की कोई सियासी हैसियत नहीं रह गई है। पुडुचेरी से निकाले गए। लोकसभा चुनाव में प्रदेश के 70 से अधिक विधानसभा क्षेत्रों में बुरी तरह पिछड़ गई कांग्रेस के लोग आख़िर अपनी किस लोकप्रियता के बढ़ने पर गाल बजाकर कुप्पा हुए जा रहे हैं?

श्री मूणत ने कहा कि पुलिस की नोटिस का रिसीव होते ही छत्तीसगढ़ कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट होने और फिर उसके डिलीट होने से यह साफ है कि प्रदेश में पुलिस को भी कांग्रेस दफ़्तर से संचालित किया जा रहा है। यह संविधान विरोधी, आपराधिक कृत्य है, इसे सहन नहीं किया जायेगा। ऐसी लाख गुंडागर्दी और तानाशाही कर ले कांग्रेस, हम उसके देशद्रोही कृत्यों पर नकेल कसते रहेंगे। भाजपा इनसे न डरी है न डरने वाली है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button