डोकलाम में सेना की संख्या बढ़ाये जाने की सिफारिश

चीनी सैनिकों की गतिविधि पर नज़र रखने के लिए यह ज़रूरी है.

नई दिल्ली: संसदीय समिति ने कहा कि क्षेत्र में भारत के सामरिक हितों की रक्षा के लिए उत्तरी डोकलाम में सैनिकों की संख्या बढ़ाना जरूरी है।

कांग्रेस सांसद शशि थरूर की अध्यक्षता में विदेशी मामलों पर बनी एक संसदीय समिति ने कहा है कि उत्तरी डोकलाम में सेना की संख्या बढ़ाई जानी चाहिए ताकि भारत के सामरिक हितों को चोट ना पहुंचे.

इस संसदीय पैनल का कहना है कि भूटान को सैनिकों की संख्या बढ़ाए जाने के लिए प्रोत्साहित करने ज़रूरत है. पैनल का कहना है कि उत्तरी डोकलाम और सिक्किम सेक्टर में चीनी सैनिकों की गतिविधि पर नज़र रखने के लिए यह ज़रूरी है.

पिछले साल चीन और भारत की सेना डोकलाम में 73 दिनों तक आमने-सामने रही थी. डोकलाम को लेकर भूटान और चीन में विवाद है और दोनों देशों के बीच इस बात पर सहमति थी कि वहां कोई निर्माण कार्य नहीं होगा.

Tags
Back to top button