Red cross day : जानिए 8 मई को ही मनाया जाता है रेड क्रॉस दिवस?

विश्व रेड क्रॉस दिवस हर साल 8 मई को मनाया जाता है.

नई दिल्ली : विश्व रेड क्रॉस दिवस हर साल 8 मई को मनाया जाता है. इसका उद्देश्य अंतरराष्ट्रीय रेड क्रॉस  और रेड क्रिसेंट आंदोलन के सिद्धांतों को याद करने के लिए मनाया जाता है. इस दिन लोग इस मानवतावादी संगंठन और उसकी ओर से मानवता की सहायता के लिए अभूतपूर्व योगदान के लिए श्रद्धांजलि देने के लिए याद करते हैं. आज कोविड-19 महामारी में रेड क्रॉस आंदोलन की अहमित और भी अधिक प्रासंगिक हो गई है.

नोबेल शांति पुरस्कार

मानवीय जीवन तथा सेहत की सुरक्षा के मिशन के साथ वर्ष 1863 में स्थापित संगठन रेड क्रॉस अपने वॉलेंटियर वर्क मतलब स्वयंसेवा के लिए जाना जाता है। यह एक अंतरराष्ट्रीय संगठन है, जिसका मुख्यालय स्विटजरलैंड के जेनेवा में है। इस संस्था को वर्ष 1917, 1944 तथा 1963 में नोबेल शांति पुरस्कार प्राप्त हो चुका है। इसकी स्थापना हेनरी ड्यूडेंट ने की थी, जिनका जन्म 8 मई को ही हुआ था। इसलिए प्रत्येक वर्ष 8 मई को रेड क्रॉस दिवस मनाया जाता है। यह संस्था युद्ध तथा शांति के वक़्त विश्वभर के देशों की सरकारों के बीच समन्वय का कार्य करती है। इसका प्रमुख कार्य मानव सेवा है।

रेड क्रॉस सोसाइटी का मुख्य लक्ष्य युद्ध या विपदा के वक़्त होने वाली समयों से राहत दिलाना है। युद्ध के चलते घायल सैनिकों की सहायता करना तथा उनका इलाज उपचार इसके प्रमुख लक्ष्यों में रहा है, जबकि यह संस्था ब्लड बैंक से लेकर विभिन्न प्रकार की स्वास्थ्य और समाजसेवाओं में अपना किरदार निभा रहा है। मानव सेवा को मूल कार्य मानने वाली यह संस्था महामारी जैसी आपदा में भी पीड़ितों की मदद करती है। सफेद पट्टी पर लाल रंग का क्रॉस का चिह्न इस संस्था का निशान है, जिसका गलत उपयोग करने पर जुर्माना लगाए जाने का प्रावधान है तथा यहां तक कि दोषी शख्स की संपत्ति भी ज़ब्त की जा सकती है।

भारत में इसकी स्थापना:-

विश्व के करीब 210 देश इस संस्था से जुड़े हुए हैं। भारत में रेड क्रॉस सोसाइटी की स्थापना वर्ष 1920 में पार्लियामेंट्री एक्ट के मुताबिक की गई। भारत में रेडक्रॉस सोसाइटी की 700 से भी ज्यादा शाखाएं हैं। रेड क्रॉस सोसाइटी के सिद्धांतों को मान्यता वर्ष 1934 में 15वें अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में प्राप्त हुई, जिसके पश्चात् इसे विश्वभर में लागू किया गया।

Tags

One Comment

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button