रिलायंस फाउंडेशन ने शहीदों के बच्चों की शिक्षा और नौकरी का लिया जिम्मा

लायंस फाउंडेशन ने शहीदों के बच्चों की शिक्षा और नौकरी का लिया जिम्मा

नई दिल्ली। पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों के परिजनों के लिए देश भर से मदद के हाथ आगे आने लगे हैं। उद्योगपति मुकेश अंबानी के सामाजिक कार्यों में जुटे रिलायंस फाउंडेशन ने शहीदों की संतानों की शिक्षा का पूरा खर्च, उन्हें रोजगार देने और उनके परिवारों का पूरा खर्च उठाने की बात कही है।

इस बीच, फिल्म अभिनेता अमिताभ बच्चन ने शहीदों के परिवारों को 5-5 लाख रुपये की सहायता देने की घोषणा की। जबकि पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने शहीदों के बच्चों की शिक्षा का पूरा खर्च उठाने की पेशकश की है।

रिलायंस फाउंडेशन की तरफ से शनिवार को कहा गया कि वह पुलवामा में शहीद हुए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों की संतानों की शिक्षा की पूरी जिम्मेदारी उठाने को तैयार है। उसने कहा है कि वह शहीदों की संतानों को रोजगार और उनके परिजनों के खर्च को भी उठाने के लिए तैयार हैं।

फाउंडेशन ने इस हमले में घायल जवानों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हुए कहा कि यदि जरूरत हो तो उसके अस्पताल इस आतंकी हमले में घायल जवानों के बेहतर से बेहतर उपचार के लिए भी तैयार हैं। उसने कहा है कि सरकार शहीदों से संबंधित कोई भी जिम्मेदारी फाउंडेशन को सौंपेगी तो वह उसको सहर्ष स्वीकार कर पूरा करेगा।

फाउंडेशन ने शहीदों को श्रद्धांजलि और परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए कहा है कि आतंकवाद के इस कुकृत्य से मुकाबला करने के लिए देश की 130 करोड़ जनता के साथ पूरा रिलायंस परिवार मजबूती से खड़ा है। कोई भी दुश्मन भारत की एकता को नहीं तोड़ सकता और न ही आतंकवाद खत्म करने के हमारे हौसले को डिगा सकता है। फाउंडेशन ने कहा है कि वह अपने सुरक्षा बलों और सरकार के साथ पूरी मजबूती से खड़ा है और जो भी जिम्मेदारी सौंपी जाएगी उसे पूरा करेगा।

वहीं, फिल्म अभिनेता अमिताभ बच्चन ने सीआरपीएफ जवानों की शहादत पर शोक व्यक्त करते हुए इन सभी शहीदों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की है। बिग बी के प्रवक्ता ने बताया कि अमिताभ बच्चन पुलवामा के सभी शहीदों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये की सहायता राशि देंगे। वह फिलहाल ऐसा करने की सही प्रक्रिया का पता कर रहे हैं।

इसके अलावा, पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने अपने झज्जर स्थित सहवाग इंटरनेशनल स्कूल में मुफ्त शिक्षा देने की पेशकश की है। जबकि स्टार मुक्केबाज विजेंद्र सिंह अपनी पुलिस की नौकरी से एक महीने का वेतन शहीदों के परिजनों की सहायता के लिए देंगे।

Back to top button