इस तरह योगासन से दूर करें अर्थराइटिस का दर्द

घुटनों का दर्द या अर्थराइटिस जैसी समस्याओं का इलाज न केवल दवाइओं से बल्कि योगासन से भी किया जा सकता है।

बिना किसी साइड-इफैक्ट के बीमारी को जड़ से खत्म करने का सबसे बढ़िया तरीका है योगासन। अगर बात योगासन की करें तो वृक्षासन एक ऐसा आसन है जिसका रोजाना अभ्यास करने से आप कई बीमारियों से राहत पा सकते हैं। चलिए जानते है वृक्षासन करने का तरीका और इसके फायदे।

किन बीमारियों में फायदेमंद

जिन लोगों को गठिया और घुटनों में दर्द की शिकायत रहती है उनके लिए वृक्षासन बहुत फायदेमंद है। इसे करने से रीड़ की हड्डी मजबूत होती है और शरीर के बाकी हिस्सों में दर्द की शिकायत कम होती है।

कैसे करें वृक्षासन

वृक्षासन को करने के लिए सावधान मुद्रा में खड़े हो जाएं। अब दोनों पैरों के बीच कुछ दूरी बनाकर खड़े हो। फिर हाथों को सिर के ऊपर उठाते हुए सीधा कर हथेलियों को मिला दें। दाहिने पैर को मोड़ते हुए उसके तलवे को बाईं जांघ पर टिका दें। बाएं पैर पर संतुलन बनाते हुए हथेलियां, सिर और कंधे एक ही तरफ हो। जब तक संभव हो ऐसे रहें। कुछ देर बाद दूसरे पैर से भी ऐसा ही करें।

कमर और हिप्स की चर्बी घटाएं

 

वृक्षासन शरीर की बीमारियों को ही नहीं ठीक करता बल्कि यह शरीर की एक्स्ट्रा चर्बी को भी निकालता है। इस आसन के बाद शरीर को कमजोरी नहीं आती और हड्डियां मजबूत हो जाती है। अगर आप अपनी बढ़ती तोंद से परेशान हैं तो इस आसन को जरूर करें।

दिमाग को रखें शांत

नियमित वृक्षासन करने से हमारी एकाग्रता क्षमता बढ़ती है जिससे हमारी याद्दाश्त तेज होती है। इस आसन को करने से मन शांत रहता है।

<>

Tags
Back to top button