देश के इन धनकुबेरों को सरकार के इस नियम के बाद पद से देना पड़ सकता है इस्‍तीफा

यह नियम देश की टॉप-500 लिस्‍टेड कंपनियों पर लागू होगा।

नई दिल्ली। मार्केट रेग्‍युलेटर सेबी के ताजा नियमों के कारण रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL), इन्फोसिस, TCS और भारती एयरटेल समेत 291 लिस्‍टेड कंपनियों को 1 अप्रैल 2020 तक अपने बोर्ड में एक नॉन एग्‍जीक्‍यूटिव चेयरपर्सन की नियुक्त करनी पड़ेगी।

यह नियम देश की टॉप-500 लिस्‍टेड कंपनियों पर लागू होगा। इससे चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्‍टर के पद अलग अलग हो जाएंगे।

सके चलते मुकेश अंबानी, सुनील भारती मित्‍तल और शिव नाडर समेत देश के कई धनकुबेरों को अपने पद से इस्‍तीफा देना पड़ेगा।

दरसअल ये अरबपति सीएमडी (चेयरमैन एंड मैनेजिंग डायरेक्‍टर) के रूप में कंपनियों में काम कर रहे हैं। सेबी के नए नियम के मुताबिक, एक ही व्‍यक्ति को दोनों पद नहीं दिया जा सकता है।

वर्तमान में बहुत सी कंपनियों ने सीएमडी (चेयरमैन और प्रबंध निदेशक) के रूप में मैनेजिंग डायरेक्‍टर और चैयरमैन के दोनों पद का एक कर रखा है। इसके चलते बोर्ड और मैनेजमेंट में टकराव स्थिति पैदा होती है।

बता दें कि कंपनी प्रशासन को बेहतर बनाने के लिए सेबी ने कोटक कमेटी का गठन किया था। कमेटी ने अपनी सिफारिशों में चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्‍टर के पद को अलग करने की सलाह दी थी।

Back to top button