अविवादित नामांतरण एवं बंटवारा के प्रकरणों को अभियान चलाकर निराकृत करें: कमिश्नर चुरेन्द्र

नामांतरण एवं बटवारा के विवादित मामलों को ही पंचायत राजस्व अधिकारी को अग्रेषित किया जाए।

रायपुर: रायपुर संभाग के कमिश्नर जीआर चुरेन्द्र ने संभाग के सभी जिला कलेक्टरों को पंचायतों में अविवादित नामांतरण एवं बंटवारा के प्रकरणों को अभियान चलाकर इनका शत्-प्रतिशत निराकरण करने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने इन प्रकरणों के तेजी से निराकरण के लिए प्रत्येक जनपद और तहसील स्तर पर कार्यशाला आयोजित करने के भी निर्देश दिए हैं। चुरेन्द्र ने जिला कलेक्टरों को इस संबंध में मैदानी स्तर पर जाकर मॉनिटर्रिंग के लिए भी कहा।

कमिश्नर चुरेन्द्र ने कहा कि अविवादित नामांतरण एवं बंटवारा के प्रकरणों को निराकृत करने का अधिकार पंचायतों को दिया गया है। नामांतरण एवं बटवारा के विवादित मामलों को ही पंचायत राजस्व अधिकारी को अग्रेषित किया जाए।

अभियान के दौरान गांव में नामांतरण व बंटवारा के मामलों के खोजबीन, पहचान उसमें आवश्यक सहयोग करने, कार्यवाही करने व कराने ग्राम पदाधिकारी यथा-ग्राम पटेल, ग्राम कोटवार का विशेष सहयोग लिया जाए।

उन्होंने कहा कि पंचायतों में इन प्रकरणों के निराकरण के लिए निर्धारित समय सीमा का पालन किया जाए। अविवादित नामांतरण व बंटवारा के संबंध में पंचायतों से आदेश पारित होने पर रिकार्ड दुरूस्ती एवं उसका सत्यापन कराकर संबंधित किसान व हिस्सेदार को खसरा, बी-वन की प्रति शीघ्र उपलब्ध कराई जाए।

बंटवारा के मामले में संबंधित किसान का खाता अनुसार किसान किताब उपलब्ध कराया जाए। कमिश्नर ने पंचायतों में अविवादित नामांतरण एवं बंटवारा के मामलों के तेजी से निराकरण के लिए राजस्व अमलों,

पंचायत एवं ग्रामीण विकास यथा राजस्व निरीक्षक, हल्का पटवारी, पंचायत सचिव, ग्राम पटेल, ग्राम कोटवार आदि की संयुक्त कार्यशाला-सह प्रशिक्षण प्रत्येक जनपद और तहसील स्तर पर आयोजित करने के निर्देश दिए हैं। कार्यशाला आयोजित करने की जिम्मेदारी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, तहसीलदार एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत की होगी।

Back to top button