आमजनों की समस्याओं व शिकायतों का गंभीरता से निराकरण करें: भुरे

कलेक्टर ने की जन घोषणाओं एवं लोक सेवा गारंटी के प्रकरणों की समीक्षा

मुंगेली। कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने आज मंगलवार को कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में समय सीमा के अंतर्गत अधिकारियों की बैठक लेकर विभागीय कामकाज की समीक्षा की। उन्होने जिला अधिकारियां को निर्देशित किया कि जनदर्शन, विशेष शिकायत प्रकोष्ठ से प्राप्त आवेदनों, आमजनों की समस्याओं एवं शिकायतों का गंभीरता से निराकरण करें।

उन्होने मुख्यमंत्री की जन घोषणा के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु अधिकारियों को निर्देश दिये तथा लोक सेवा गारंटी के लंबित प्रकरणों की समीक्षा की। डॉ. भुरे ने कहा कि अधिकारी-कर्मचारी निर्धारित मुख्यालय में रहना सुनिश्चित करें। उन्होने जिला अधिकारियों से कहा कि स्कूलों में जाकर विद्यार्थियों को पढ़ाई के संबंध में प्रेरित करेंगे।

कक्षा 9वीं एवं 11वीं में उत्तीर्ण होने वाले विद्यार्थियों के समर क्लास लगाने के लिये कार्य योजना बनाने जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिये गये। ताकि आगामी 10वीं, 12वीं बोर्ड परीक्षाओं के लिए विद्यार्थियों को तैयार किया जा सके। इसमें लाइवलीहूड कालेज के नोडल अधिकारी और जिला रोजगार अधिकारी से भी सहयोग लिया जायेगा।

कलेक्टर डॉ. भुरे ने कार्य एजेंसी ग्रामीण यांत्रिकी, लोक निर्माण, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क एवं मुख्यमंत्री ग्राम सड़क के कार्यपालन अभियंताओं से कहा कि स्वीकृत कार्य प्रारंभ करायें। उन्होने जिला चिकित्सालय परिसर में वृक्षारोपण और सौंदर्यीकरण कार्य एवं मुंगेली से बरेला तक वृक्ष कटाई के लिए कार्य योजना बनाने वन विभाग के अधिकारी को निर्देश दिये। उन्होने नगरीय निकाय के मुख्य नगर पालिका अधिकारियों को निर्देशित किया कि शत प्रतिशत संपत्तिकर वसूली सुनिश्चित करें।

मुंगेली सीएमओ से कहा कि नगर की सफाई व्यवस्था देख लें। गर्मी के मद्देनजर पेयजल समस्यामूलक गांवों के संबंध में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन अभियंता से जानकारी ली। उन्होने बताया कि मुंगेली विकासखण्ड के 15 और पथरिया विकासखण्ड के 7 गांवों को चिन्हित किया गया है। पेयजल के संबंध में जिला पंचायत के सदस्यों से जानकारी प्राप्त करने कहा गया।

कलेक्टर ने उपसंचालक कृषि और सहायक संचालक उद्यान से फ्रूट पार्क बनाने और टमाटर उत्पादन के संबंध में कार्य योजना बनाने निर्देश दिये। उन्होने जिले में संचालित गुड़ फैक्ट्रियों की जांच कराने राजस्व अनुविभागीय अधिकारियों और जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक, विद्युत के कार्यपालन अभियंता, श्रमपदाधिकारी को आवश्यक निर्देश दिये। उन्होने समय सीमा की बैठक में कार्यालय भवनों के लिए भू-बंटन के संबंध में अधिकारियां से जानकारी प्राप्त की।

बैठक में बताया गया कि महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना के तहत जिले में लगभग 42 हजार मजदूर कार्यरत है। बैठक में बताया गया कि मुंगेली विकासखण्ड के बाघामुड़ा, पथरिया विकासखण्ड के सेंदरी और लोरमी विकासखण्ड के सारधा में नर्सरी संचालित है। उन्होने सहायक पंजीयक सहकारी समितियां और खाद्य अधिकारी से कर्ज माफी के संबंध में जानकारी ली।

बैठक में बताया गया कि कर्ज माफी के संबंध में किसानों से किसी प्रकार शिकायत नहीं है। कलेक्टर ने सहायक पंजीयक और खाद्य अधिकारी को राशन दुकानों में मिट्टी तेल की उपलब्धता हेतु आवश्यक निर्देश दिये। रेडी टू ईट सेंटर का निरीक्षण कराने एसडीएम को निर्देश दिये गये। जिला कार्यक्रम अधिकारी से आंगनबाड़ी केंद्र संचालन के संबंध में जानकारी लेते हुए प्रभावी क्रियान्वयन के निर्देश दिये गये।

बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी लोकेश चंद्राकर, अपर कलेक्टर राजेश नशीने, एसडीएम मुंगेली अमित गुप्ता, लोरमी एसडीएम सीएस ठाकुर, पथरिया एसडीएम डॉ. आराध्या कमार, डिप्टी कलेक्टर आरआर चुरेंद्र सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

लोकसभा निर्वाचन की तैयारी हेतु प्रशिक्षण कार्यक्रम निर्धारित

लोकसभा निर्वाचन 2019 की तैयारी हेतु प्रशिक्षण कार्यक्रम बनाया गया है। जिसके अनुसार एमसीएमसी दल का प्रशिक्षण आज 20 फरवरी को प्रातः 11 बजे से आयोजित किया गया है। इसी तरह एमसीसी एवं ईईएम का प्रशिक्षण 21 फरवरी को प्रातः 11 बजे से, विडियोग्राफर का प्रशिक्षण 21 फरवरी को दोपहर 2 बजे से, विधानसभा स्तरीय मास्टर ट्रेनर्स का प्रशिक्षण 22 फरवरी को प्रातः 11 बजे मनियारी सभाकक्ष कलेक्टोरेट मुंगेली, पीठासीन एवं प्रथम मतदान अधिकारी का प्रशिक्षण 28 फरवरी एवं 01 मार्च 2019 को प्रातः 11 बजे से जिला स्तरीय, जिले के विभिन्न संस्थाओं में, मतदान दलों का प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय प्रशिक्षण 25 एवं 26 फरवरी को प्रातः 11 बजे से विकासखंडवार लोरमी/मुंगेली/पथरिया, 15 मार्च 2019 के बाद जिला स्तरीय, विभिन्न संस्थाओं में मुंगेली एवं मतदान से 01 दिवस पूर्व प्रातः 11 बजे से जिला स्तरीय मुंगेली, अभ्यर्थियों/चुनावी अभिकर्ता/राजनैतिक दल/बी.एल.ए. का प्रशिक्षण नामांकन के अंतिम दिन से लेकर चुनाव चिन्ह आबंटन दिनांक तक जिला स्तरीय आगर सभाकक्ष कलेक्टोरेट मुंगेली, मतगणना कर्मचारियों का प्रशिक्षण मतगणना के 5-10 दिन पूर्व आगर सभाकक्ष कलेक्टोरेट मुंगेली, माइक्रो ऑब्जर्वर का प्रशिक्षण 05 मार्च 2019 को प्रातः 12 बजे से आगर सभाकक्ष कलेक्टोरेट मुंगेली एवं वितरण वापसी कर्मचारियों का प्रशिक्षण मतदान के 5-10 दिवस पूर्व आगर सभाकक्ष कलेक्टोरेट मुंगेली में प्रशिक्षण निर्धारित किया गया है।

सावधानीपूर्वक लोकसभा निर्वाचन संपन्न कराने सेक्टर अधिकारियों को दिया प्रशिक्षण

कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में आज लोकसभा निर्वाचन 2019 की तैयारी के संबंध में सेक्टर अधिकारियों को मास्टर ट्रेनर्स द्वारा गहन प्रशिक्षण दिया गया।

जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी लोकेश चंद्राकर ने पिछले निर्वाचन में हुई त्रुटि सुधारने और सावधानीपूर्वक लोकसभा निर्वाचन संपन्न कराने सेक्टर अधिकारियों को समझाईश दी। उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री राजेश नशीने ने सेक्टर अधिकारियों से कहा कि लोकसभा निर्वाचन समस्यारहित एवं निर्विवाद संपन्न करायेंगे। सेक्टर अधिकारियों को मतदान केंद्रों में छाया, पानी, बिजली, शौचालय, रेम्प अवलोकन करने के लिए कहा गया।

जिला स्तरीय मास्टर ट्रेनर जयमंगल सिंह ध्रुव, मोहन उपाध्याय एवं पीसी दिव्य द्वारा मतदान पूर्व सेक्टर अधिकारियों की जिम्मेदारी, मतदान दिवस की एवं मतदान पश्चात जिम्मेदारी की जानकारी दी गई। प्रशिक्षण में बताया गया कि मतदान की घोषणा से मतदान तक निर्वाचन प्रबंधन अपने सेक्टर के मतदान केंद्रों के पूर्णतः जिम्मेदार होंगे।

सेक्टर अधिकारी प्रभार क्षेत्र के मतदान केंद्रों के रूट और केंद्रों में मूलभूत सुविधाओं का भौतिक सत्यापन कर उपलब्धता सुनिश्चित करेंगे। मतदान से पूर्व राजनैतिक दलों के कार्यालय मतदान केंद्र से 100 मीटर दूर होने की जांच करेंगे। आदर्श आचरण संहिता से संबंधित सभी विषयों पर गहरी नजर रखेंगे। श्री दिव्य ने ईव्हीएम एवं व्हीव्हीपीएटी के विभिन्न पार्ट्स, गतिविधियां, कंट्रोल यूनिट, डिस्प्ले के क्रियाकलापों के बारे में विस्तृत जानकारी दी।

मास्टर ट्रेनर्स उपाध्याय को बताया कि मतदान समाप्ति के बाद पीठासीन अधिकारी की चेकलिस्ट, डायरी, हरी पत्र, टेग लगाने, मतपत्र लेखा की जांच कर जमा करायेंगे। महिला, पुरूष मतदान का प्रतिशत और मत लेखा से मिलान किये जाने की जानकारी दी गई। प्रशिक्षण में सी टाप, सीआरसी के संबंध में भी जानकारी दी गई। प्रशिक्षण में डिप्टी कलेक्टर आरआर चुरेंद्र, जिला मास्टर ट्रेनर्स एवं नोडल अधिकारी डॉ. आईपी यादव सहित समस्त सेक्टर अधिकारी उपस्थित थे।

Back to top button