छत्तीसगढ़

अधिसूचित अवधि तक एग्जिट पोल प्रकाशित-प्रसारित करने पर लगा प्रतिबन्ध

निर्धारित समय के दौरान मीडिया नहीं कर सकेंगे ओपिनियन पोल का प्रसारण

रायपुर :
चुनाव आयोग ने छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, राजस्थान, मिजोरम और तेलंगाना विधानसभा के लिए हो रहे चुनावों के दौरान किसी भी तरह के एग्जिट पोल पर प्रतिबंध लगा दिया है। आयोग ने शुक्रवार को विज्ञप्ति जारी कर यह जानकारी दी।  

उल्लेखनीय है कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा छह अक्टूबर 2018 को छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, राजस्थान, मिजोरम एवं तेलंगाना की विधानसभा निर्वाचन के लिए अधिसूचना जारी की गई थी। 

इसके तहत छत्तीसगढ़ में 12 नवम्बर सोमवार को आठ जिलों के 18 विधानसभा क्षेत्रों के लिए प्रथम चरण में और 20 नवम्बर मंगलवार को 19 जिलों के 72 विधानसभा क्षेत्रों के लिए द्वितीय चरण में निर्वाचन की तिथि तय की गई है।  

विधानसभा निर्वाचन के लिए लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की 126 (क) की उपधारा (1) के अधीन शक्तियों का प्रयोग करते हुए भारत निर्वाचन आयोग इस धारा की उपधारा (2) के उपबंधों के दृष्टिगत रखते हुए  

12 नवम्बर को सवेरे सात बजे से सात दिसम्बर को शाम साढे़ पांच बजे के बीच की अवधि को ऐसी अवधि के रूप में अधिसूचित किया है। आयोग द्वारा छह अक्टूबर 2018 को जारी अधिसूचना के तहत छत्तीसगढ़,  

मध्यप्रदेश, राजस्थान, मिजोरम एवं तेलंगाना की विधानसभाओं के वर्तमान साधारण निर्वाचनों के संबंध में किसी भी प्रकार के एक्जिट पोल का संचालन करने तथा प्रिंट अथवा इलेक्ट्रॉनिक मीडिया द्वारा इसके परिणाम के प्रकाशन-प्रचार अथवा किसी भी अन्य तरीके से उसका प्रसार करने पर प्रतिबंधित होगा। 

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा यह भी स्पष्ट किया है कि प्रत्येक चरण में मतदान की समाप्ति के लिए नियत समय पर समाप्त होने वाले 48 घंटों के दौरान किसी भी इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में किसी भी ओपिनियन पोल अथवा किसी मतदान सर्वेक्षण के परिणामों अथवा निर्वाचन संबंधी मामले के प्रदर्शन प्रतिबंधित है । 

Summary
Review Date
Reviewed Item
अधिसूचित अवधि तक एग्जिट पोल प्रकाशित-प्रसारित करने पर लगा प्रतिबन्ध
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
advt