राजस्व विभाग ने इन 17 नायब तहसीलदारों की कर दी छुट्टी, जाने क्या है वजह

रायपुर.

राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग ने छत्तीसगढ़ लोकसेवा आयोग से चयनित 17 नायब तहसीलदारों की नियुक्ति रद्द करने का आदेश जारी कर दिया है। नियुक्ति आदेश के बाद भी तय समय पर नियुक्ति नहीं करने पर विभाग ने यह कार्रवाई की है। अब विभाग 19 प्रतिक्षारत अभ्यर्थियों के जरिए नियुक्ति की प्रक्रिया पूरी कर सकता है।

विभाग ने अप्रैल 2018 में कुल 76 नायब तहसीलदारों की नियुक्ति के लिए आदेश जारी किया था। आदेश जारी करते समय स्पष्ट कहा गया था कि इन अभ्यर्थियों को 7 जून 2018 तक पदभार ग्रहण करना अनिवार्य है। इसके बाद भी 17 अभ्यर्थियों ने पदभार ग्रहण नहीं किया। इसे विभाग ने गंभीरता से लेते हुए इन 17 नायक तहसीलदारों के नियुक्ति आदेश पर रोक लगा दी है। बताया जाता है कि इनमें अधिकांश अभ्यर्थियों को अपनी पसंद की जगह नहीं मिली थी।

कुछ की नौकरी अन्य स्थानों पर लग गई और कुछ आइएएस की तैयारी में लगे हैं। इन वजह से इन्होंने अपनी ज्वाइनिंग नहीं दी है। गौरतलब है कि इन नायब तहसीलदारों की नियुक्ति नहीं होने से जिले के कामकाज पर असर पड़ेगा। इन नायब तहसीलदारों की नियुक्ति कोरबा, बलरामपुर, सरगुजा, कोरिया, बस्तर, जांजगीर-चांपा, दंतेवाड़ा, रायगढ़, कबीरधाम, बीजापुर, बलौदाबाजार,गरियबंद, जशपुर और दंतेवाड़ा जिले में होनी थी।

इन नायब तहसीलदारों की नियुक्ति निरस्त

डॉ. राकेश अग्रवाल, आकांक्षा त्रिपाठी, अनुराग त्रिपाठी, स्मृति तिवारी, निखिल अग्रवाल, स्मिता तिवारी, प्रियंका चंद्रा, डब्बू साहू, आशारानी खूंटे, संदीप कुमार साय, दीप्ति मंडावी, लवकेश कुमार धु्रव, शिव नारायण राठिया, विजय प्रताप सिंह, मनोज कुमार, विजय कुमार पटेल, जयपाल सिंह पवार।

1
Back to top button