TCS को पीछे छोड़ आगे निकली RIL, बनी सबसे ज्यादा मार्केट कैप वाली कंपनी

मुकेश अंबानी की आरआईएल का मार्केट कैप 7.43 लाख करोड़ रुपए हो गया, जो टीसीएस से ज्यादा है।

नई दिल्ली। शेयर बाजार में पिछले कुछ महीनों से एक दिलचस्प रेस छिड़ी थी, जिसमें आज मुकेश अंबानी ने रतन टाटा को मात दे दी। यह रेस है देश के दो बड़ी दिग्गज कंपनियों मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) और रतन टाटा की टाटा कंसल्टेंसी (TCS) में।

जिससे कि रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) देश की सबसे ज्यादा मार्केट कैप वाली कंपनी बन गई है। मंगलवार के कारोबार के दौरान मुकेश अंबानी की आरआईएल का मार्केट कैप 7.43 लाख करोड़ रुपए हो गया, जो टीसीएस से ज्यादा है।

टीसीएस का मार्केट कैप 7.39 लाख करोड़ रुपए है। बता दें कि मार्केट कैप के मामले में लंबे समय से टीसीएस नंबर 1 कंपनी बनी हुई थी। कारोबार के दौरान आरआईएल के शेयर में 2 फीसदी से ज्यादा तेजी रही, जिसका फायदा कंपनी को हुआ।

कैसे बढ़ी RIL की दौलत

मंगलवार के कारोबार के दौरान आरआईएल के शेयर में 2 फीसदी से ज्यादा तेजी रही और शेयर का भाव 1175 रुपए पहुंच गया था। जबकि सोमवार को कंपनी का शेयर करीब 1150 रुपए के भाव पर था। शेयर में बढ़ोत्तरी से कंपनी का मार्केट कैप करीब 16 हजार करोड़ रुपए बढ़कर 7.44 लाख करोड़ रुपए पहुंच गया, जबकि सोमवार को यह 7.28 लाख करोड़ रुपए पर बंद हुआ था।

कैसे घटी TCS की दौलत

टीसीएस की मार्केट कैप सोमवार को 7.45 लाख करोड़ रुपए पर बंद हुई थी। वहीं, मंगलवार के कारोबार में शेयर में 0.70 फीसदी तक गिरावट रही। जिसकी वजह से कंपनी का मार्केट कैप 6 हजार करोड़ रुपए घटकर 7.39 लाख करोड़ रह गया।

इसी महीने 100 बिलियन डॉलर क्लब में शामिल हुई थी कंपनी

12 जुलाई के कारोबार में आरआईएल दूसरी बार 100 अरब डॉलर क्लब में शामिल हुआ था। तब आरआईएल का मार्केट कैप 6.89 लाख करोड़ रुपए पहुंच गया था। 12 जुलाई को टीसीएस का मार्केट कैप 7.55 लाख करोड़ रुपए था। आरआईएल का मार्केट कैप इससे पहले अक्‍टूबर 2007 में पहली बार 100 अरब डॉलर के पार गया था। उस समय एक डॉलर की कीमत 39.5 रुपए थी।

AGM के बाद शेयर में 22 फीसदी तेजी

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने इस महीने ही एजीएम के दौरान कुछ नए प्लान का ऐलान किया था। कंपनी के एग्रेसिव प्लान की वजह से शेयर में तेजी बनी हुई है। आरआईएल का शेयर 5 जुलाई को जहां 965 रुपए के भाव पर था, वह 31 जुलाई को 1174 रुपए के भाव पर पहुंच गया। 12 जुलाई यानी गुरूवार को 1086 रुपए के भाव पर पहुंच गया। यानी एजीएम के बाद शेयर में करीब 22 फीसदी तेजी आई है।

Back to top button