मतदाता जागरण महोत्सव अभियान का अलख जगाने ऋतेश्वर महाराज का आज नगर भटगांव में हुआ आगमान

योगेश केशरवानी

भटगांव, बिलाईगढ़। आनंदम् धाम ट्रस्ट वृंदावन के नेतृत्व मे छत्तीसगढ़ ही नही बल्कि अन्य प्रदेशो मे चलाए जा रहे मतदाता जागरण महोत्सव अभियान का अलख जगाने निकले ऋतेश्वर महाराज का आज नगर भटगांव मे आगमन हुआ। जहा नगर के लोगो द्वारा महाराज जी का स्वागत किया गया। वही ऋतेश्वर महाराज ने वहा उपस्थित लोगों को कहा कि भारत वर्ष मे 5 वर्ष मे लोकसभा चुनाव आता है और यह लोकतंत्र के लिए एक महापर्व है पर हमारा भारत देश इतना शिक्षित है कि यहा 60 से 70 प्रतिशत ज्यादा से ज्यादा मतदान होते है और उन 60 से 70 प्रतिशत मे भी 30 प्रतिशत जिसका मत मिलता है।

वो सरकार बना लेता है बाकी 70 प्रतिशत जनता तो सरकार से दूर रहती है जिस देश मे 30 लोग मिलकर सरकार बनाते है वो ही सरकार 100 लोगो का भला देख नही सकती सोच नही सकती इसका एक ही उपाय है। जब पांच वर्ष मे एक बार हमे मौका मिलता है तो हम सब कम से कम 90 से 95 प्रतिशत मतदान करे जो भी राष्ट्र उन्नत राष्ट्र वहा 90 से 95 प्रतिशत मतदान होते है और हमारे देश मे 50 से 60 प्रतिशत मतदान होता है।

वही उन्होंने आगे बताया कि बहुत मुश्किल से लोभ और लालच से होता है कोई शराब दे रहा है। कोई पैसे दे रहा है आप खुद जानते है कि वोट कैसे देते है एक महिने तक हम लालच को रोक नही पाते हम थोड़े से शराब थोड़े से पैसे थोड़े से ठेकेदार के लिए हम अपना वोट को बेच देते है और फिर चार साल 11 महिने तक भिखारियो की तरह उनके दरवाजे पर भटकते रहते है जबकि होना यह चाहिए कि अगर एक महिना तक भारत की जनता प्रबुध्द जनता अपने लोभ को मार ले अपने लोभ को दबा ले और अपने सुब्रियत से ऐसी सरकार बनाये मत देकर जो सरकार भारत के बरोजगारी, भष्टाचार, भारत के उथान, भारत के उन्नति के लिए काम करे।

भारत में आप भी रहते है हम भी रहते है। मै एक साधू हूं पर भारत देश का एक नागरिक हूॅ और भारत देश का नागरिक होने के नाते मै ये दायित्व समझा कि भारत वर्ष के प्रत्येक राज मे मै जा जाकर मै मतदाताओं को जागरूक करू कि एक महिने तक लालच से बचो और मतदान के दिन टीवी चैनल के सामने टांग मे टांग चढ़ाके काफी पिते हुये और उठीन, अमेरिका के राष्ट्रपति की चिंता मत करो बल्कि भारत मे अपना मतदान करके अपने लिये एक सही विकल्प चुनो जिससे की पांच साल तक आप और आपके बच्चे और आपके राष्ट्र के भविष्य सुरक्षित रहे और अच्छा रहे।

इस नाते मै यहा निकला हुआ हूॅ। पूरे प्रदेश मे जा रहा हूॅ छत्तीसगढ़ मेरी कर्मभूमि रही हुई है। मुझे यहां अच्छे से सम्मान मिलता है। और मे प्रसन्न हूं कि राम जी के सेतू मे जैसे गिरहरी ने अपना योगदान दिया था मै भी धिरे धिरे करके प्रत्येक राज्य मे जा करके गिलहरी की तरह इस महान लोकतंत्र के पर्व मे अपना योगदान दिया।

ये मतदान जागरण रैली हमने उत्तरप्रदेश से प्रारंभ किये हम मध्यप्रदेश मे भी कुछ क्षेत्र गये हम महाराष्ट्र मे भी गये और हम छत्तीसगढ़ से उड़ीसा जायेंगे उसके बाद हम राजस्थान जायेंगे फिर हम गुजरात जायेंगे जितने राज्य हम जा सकते है हम चले जायेंगे और जाकर के लोगो को जागृत करेंगे।

और आगामी जब तक मतदान होगा तब तक मै अपने कारवा को लेकर चलता रहूंगा और छत्तीसगढ़ के मतदाताओं को यह कहूंगा कि आपका राज्य बहुत उन्नत नही है पिछड़ा राज्य है। भारत वर्ष मे बहुत से लोग नाम तक नही जानते आपका राज्य बहुत छोटा सा राज्य है इस छोटे से राज्य मे इतनी खनिज संप्रदा है।

यहा का विकास और होना चाहिए जब आप जाति, धर्म से ऊपर उठकर शराब, पैसे और ठेकेदारी के लोग से ऊपर उठकर अगर आप अपने स्वयं विवेक से छत्तीसगढ़ और छत्तीसगढ़ के दूसरे देश से जनता के लिए मतदान करेंगे तो उस वक्त सरकार आयेगी केन्द्र मे और वह सरकार आपकी छत्तीसगढ़ मे भी विकास करेगी मै चाहता हू कि यहा के लोग निर्भिक होकर मतदान करे।

1
Back to top button