छत्तीसगढ़

बिल्डर के लिए निगम इंजीनियर ने वीरान में बना दी सड़क

विकल्प तललवार

बिलासपुर। राजकिशोर नगर में निगम इंजीनियर ने टेलीफोन एक्सचेंज के बाजू में वीरान जगह पर सड़क बनवाना शुरू कर दिया है। जबकि कॉलोनी में लोग खस्ताहाल सड़क से गुजारा करने को मजबूर हैं।

मामले की खबर होने पर कॉलोनी वालों ने सड़क का काम रुकवा दिया और महापौर से जनदर्शन में पूरे मामले की शिकायत की है। निगम में भ्रष्टाचार और सेटिंग का खेल किस कदर चल रहा है, इसका उदाहरण टेलीफोन एक्सचेंज के बगल में बन रही सड़क है।

यहां निगम इंजीनियर ने सड़क बनवाना शुरू किया है वह दलदली जगह है। आसपास एक भी घर या आबादी नहीं है। दलदल को पाटकर सरकारी पैसों से सड़क बनवाने का काम चालू किया गया है।

जबकि कॉलोनी के अंदर की सड़कें खस्ताहाल हैं। दलदल में सड़क बनाने की सूचना मिलने पर स्थानीय लोगों ने मंगलवार को जमकर हंगामा किया और काम रुकवा दिया। बुधवार को भी राजकिशोर नगर बीडीए ऑफिस के पास हंगामा करने के बाद लोगों ने महापौर किशोर राय के जनदर्शन में पूरे मामले की शिकायत की।

लोगों की नाराजगी को देखते हुए महापौर ने इंजीनियर को तत्काल काम रोकने के निर्देश दिए हैं। कहा जा रहा है कि पूरा मामला लाखों के भ्रष्टाचार का है। जमीन मालिक बिल्डर को लाभ पहुंचाने के लिए इंजीनियर ने सरकारी फंड से सड़क बनाने का काम शुरू करवा दिया है।

यह जानते हुए कि जहां सड़क बन रही है,वहां कोई नहीं रहता। इस सड़क को लेकर लोगों में खासी नाराजगी है। सड़क का विरोध करने वालों में शैलू गोरख, रोहित चतुर्वेदी, अमित पवार, सोमदत्त पटेल, प्रकाश गुप्ता,जय वाघवानी, दीपक भोसले, राजू ठाकुर, जया भोसले आदि शामिल थे।

सड़क निर्माण में भारी गड़बड़ी


राजकिशोर नगर में पिछले 10 साल बाद सड़क निर्माण के लिए निगम को फंड मिला है। यहां चुनाव के पहले से सड़क बनाने का काम चल रहा है। इसमें जमकर गड़बड़ी हो रही है।

पहला तो सड़क बनाने के बाद अधिकांश सीवरेज के चेंबर जमीन के अंदर ही दफन कर दिए गए हैं। जबकि नियमानुसार उसे सड़क के लेवल तक ऊपर उठाना था।

इंजीनियर ने इस काम में भी जमकर लापरवाही की है। यहां सीवरेज सिस्टम चालू हो चुका है। ऐसे में जमीन के अंदर दफन सीवरेज चेंबर को साफ करने के लिए सड़क फिर से खोदना पड़ रहा है।

सड़क का बेस घटिया, बनते ही उखड़ना शुरू


राजकिशोर नगर में बनाई गई सड़क की गुणवत्ता भी बेहद घटिया है। बेस तय मापदंड के अनुसार नहीं बनने से सड़क बनने के माहभर बाद ही वे उखड़ने लगी हैं। इस मामले में भी इंजीनियरों की भूमिका संदिग्ध बनी हुई है।

राजकिशोर नगर में वीरान जगह पर सड़क बनाने की शिकायत मिली है। इंजीनियर को तत्काल काम रोकने के निर्देश दिए गए हैं। मौके पर जाकर मैं खुद काम का निरीक्षण करूंगा। सरकारी पैसों से ऐसा काम नहीं चलेगा।

Summary
Review Date
Reviewed Item
बिल्डर के लिए निगम इंजीनियर ने वीरान में बना दी सड़क
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags
Back to top button