लुटेरे ने निगला मंगलसूत्र, एंडोस्कोपी से निकाला

पूछताछ में सच बता दिया।

जबलपुर। डिफेंस कॉलोनी में 70 साल की वृद्धा के गले से मंगलसूत्र लूटकर भाग रहे दो बदमाशों को पुलिस ने दबोच लिया। बचने के लिए एक बदमाश ने पहले ही मंगलसूत्र को निगल लिया ताकि पुलिस को लूट का माल ही न मिले, लेकिन पूछताछ में सच बता दिया।

इसके बाद पुलिस ने बदमाश को नमक का पानी पिलवाकर तीन बार उल्टियां कराईं लेकिन सफलता नहीं मिली। इसके बाद एंडोस्कोपी से गले से मंगलसूत्र निकलवाया गया। पुलिस ने दोनों आरोपितों को हिरासत में ले लिया है। आरोपितों ने कुछ ही दिन पहले गोरखपुर में भी एक वृद्धा की सोने की चेन लूटना और घमापुर से बाइक चुराना स्वीकार किया है।

अतिरिक्त पुलिस अीक्षक शहर दीपक शुक्ला ने बताया कि बुधवार शाम 4.30 बजे सिविल लाइन डिफेंस कॉलोनी निवासी कलावती यादव (70) आंगन में लेटी हुई थीं। तभी दो बदमाश बाइक से पहुंचे और एक ने अंदर जाकर गले से मंगलसूत्र लूटा और साथी की बाइक पर बैठकर भागने लगा।

कलावती के चिल्लाने पर बाहर आई नातिन अन्नूू ने उन्हें पकड़ने की कोशिश की लेकिन आरोपित भाग निकले। अन्नूू ने आवाज लगाकर पड़ोसियों को एकत्रित किया और फिर सिविल लाइन पुलिस को सूचना दी। तुरंत ही पुलिस के जवान अलग-अलग मोटरसाइकिलों से बदमाशों के पीछे लग गए।

मंगलसूत्र निगलने की जानकारी पर कराया एक्सरे

करीब एक घंटे पीछा करने के बाद पुलिस ने आरोपितों को केंद्रीय विद्यालय नंबर 1 के पास से हिरासत में ले लिया। दोनों की तलाशी ली तो उनके पास कुछ नहीं मिला। आरोपितों ने पूछताछ में अपना नाम पाटबाबा के पास निवासी राजू थापा (25) और प्रेमसागर चौकी के पीछे निवासी सूरज डुमार (20) बताया।

सख्ती से पूछताछ में आरोपित सूरज ने बताया कि उसने मंगलसूत्र निगल लिया है। इसके बाद उसका एक्सरे कराया गया, जिसमें मंगलसूत्र पेट में होने का पता चला। रात में उसे मेडिकल अस्पताल में रखा गया। नमक के पानी से उल्टियां करवाई गईं लेकिन सफलता नहीं मिली। इसके बाद गुरुवार सुबह एंडोस्कोपी की सहायता से मंगलसूत्र बाहर निकलवाया गया।

Back to top button