राष्ट्रीय

राजनीतिक एंट्री को लेकर रॉबर्ट वाड्रा ने तोड़ी चुप्पी, कही ये बात

28 फरवरी को सक्रिय राजनीति में शामिल होने का संकेत दिया था

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बहनोई और कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा इन दिनों मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जांच एजेंसी की जांच का सामना कर रहे हैं. वाड्रा के राजनीति में एंट्री को लेकर भी खबर बन रही है जिस पर चुप्पी तोड़ते हुए रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि जब तक बेदाग साबित नहीं हो जाऊंगा, तब तक राजनीति में सक्रिय कदम नहीं रखूंगा.

एएनआई से बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘मैं इस देश में हूं, ऐसे लोग हैं जिन्होंने देश को लूटा है और भाग गए हैं, उनके बारे में क्या है? मैं हमेशा इस देश में रहने जा रहा हूं. जब तक मेरा नाम साफ नहीं हो जाता, तब तक न तो देश छोड़ूंगा और न ही सक्रिय राजनीति में में आऊंगा. यह मेरा वादा है.’

दरअसल, 28 फरवरी को रॉबर्ट वाड्रा ने सक्रिय राजनीति में शामिल होने के लिए अपनी रुचि का संकेत दिया था. उन्होंने यह भी संकेत दिया था कि अगर जब भी वह चुनाव लड़ेंगे तो वह मुरादाबाद से लड़ सकते हैं.

उन्होंने कहा कि ‘मैं मुरादाबाद में पैदा हुआ हूं और उत्तर प्रदेश में बचपन बिताया है और मुझे लगता है कि मैं उस क्षेत्र को समझता हूं. हालांकि, मैं कहीं भी रह सकता हूं और मुझे विश्वास है कि मैं उन्हें समझ पाऊंगा.’

बता दें कि दिल्ली की एक अदालत ने शनिवार को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में उनकी अंतरिम जमानत 19 मार्च तक बढ़ा दी. पटियाला हाउस अदालत ने रॉबर्ट वाड्रा के करीबी सहयोगी मनोज अरोड़ा की अग्रिम जमानत की सुनवाई भी स्थगित कर दी. अगली सुनवाई 19 मार्च को होगी.

Tags
Back to top button