रॉबर्ट वाड्रा की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, हिरासत में लेकर पूछताछ करना चाहता है प्रवर्तन निदेशालय

नई दिल्ली : सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) मनी लॉन्ड्रिंग एवं बीकानेर भूमि घोटाला मामले में वाड्रा को हिरासत में लेकर पूछताछ करना चाहता है। ईडी ने साक्ष्यों के साथ छेड़छाड़ होने की आशंका जताई है। जांच एजेंसी का कहना है कि आर्थिक अपराध को गंभीरता पूर्वक देखे जाने की जरूरत है। इसके साथ ही ईडी ने पटियाला हाउस कोर्ट से वाड्रा को अग्रिम जमानत देने का विरोध किया है। ईडी के वकील डीपी सिंह ने कहा, ‘हम वाड्रा को हिरासत में लेकर पूछताछ करना चाहते हैं। हमारे पास पर्याप्त सामग्री है।’

मनी लॉन्ड्रिंग केस में रॉबर्ट वाड्रा से 7 फरवरी को नई दिल्ली में प्रवर्तन निदेशालय के दफ्तर में करीब 6 घंटे पूछताछ हुई थी। उसके बाद करीब दो दिन तक लगातार पूछताछ होती रही। ईडी के अधिकारियों ने बताया कि वो सहयोग नहीं कर रहे हैं और अदालत से हिरासत में पूछताछ की अपील की थी। ये बात अलग है कि ईडी की दरख्वास्त पटियाला हाउस कोर्ट ने ठुकरा दिया था हालांकि रॉबर्ट वाड्रा को निर्देश दिया कि वो पूछताछ में अधिकारियों को सहयोग दें। इसके बाद 12 फरवरी को जयपुर में बीकानेर लैंड डील केस में प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों के सामने पेश होना पड़ा। उस पेशी में रॉबर्ट वाड्रा की मां भी शामिल थी।

Back to top button