कीचड़ में रेंग जान बचाता रहा बच्चा

मार के रोहिंग्या मुस्लिमों का दर्द दिखाती एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। फोटो में दिख रहा बच्चा नदी के पास कीचड़ में रेंगकर जान बचाने की कोशिश करता दिख रहा है। झकझोर देने वाली ये फोटो रिफ्यूजी कैंप्स के हालात कवर करने गए एक फोटोग्राफर ने कैप्चर की है। बता दें, म्यांमार में भड़की हिंसा के चलते रोहिंग्या मुस्लिम दूसरे देशों में भागकर शरण ले रहे हैं और उन्हें आएदिन ऐसे हालात से गुजरना पड़ रहा है। ऐसा है कैंप्स तक पहुंचने वाले बच्चों का हाल…

– बांग्लादेश में कॉक्स बाजार रिफ्यूजी कैंप के पास खींची गई इस फोटो में एक छोटा बच्चा नदी से निकलने की कोशिश करता दिखाई दे रहा है।
– नदी के पास भरे कीचड़ पर रेंगकर बाहर निकलने की कोशिश करते इस बच्चे की फोटो दुनियाभर में वायरल हो रही है।
– बता दें, म्यांमार में हिंसा और खराब हालात के चलते बांग्लादेश के रिफ्यूजी कैंप्स में अब तक करीब 2 लाख से ज्यादा रोहिंग्या मुस्लिम इकठ्ठा हो चुके हैं।
– बांग्लादेश में एंट्री करने के लिए इन शरणार्थियों को एक खतरनाक दलदल जैसी नदी पार करनी होती है।
– इस नदी को पार करने के दौरान अलग-अलग घटनाओं में सैकड़ों लोग मारे जा चुके हैं जिनमें बड़े-बूढ़ों से लेकर बच्चे तक शामिल हैं।
– इसी नदी को पार करने के दौरान हाल ही में एक ठसाठस भरी नाव पलटने से एक 5 महीने के बच्चे की भी मौत हो चुकी है।

संघर्ष की कीमत चुका रहे बच्चे :

– रखाइन में ताजा तनाव 25 अगस्त को शुरू हुआ, जब रोहिंग्या ने कथित तौर पर पुलिस की एक पोस्ट पर हमला किया, जिसके जवाब में सैन्य कार्रवाई हुई।
– कार्रवाई का असर ये हुआ कि रोहिंग्या मुसलमानों ने देश छोड़ कर बांग्लादेश और दूसरे देशों का रुख करना शुरू कर दिया।
– पलायन करने वालों ने इसकी वजह सेना की कार्रवाई और रखाइन के बौद्धों का उनके गांवों पर हमले को बताया, जिसके डर से वे गांव छोड़ने पर मजबूर हुए।
– हालांकि, इस बारे में सेना का कहना है कि रोहिंग्या मुस्लिम उन पर हमले कर रहे हैं और वो उसके खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं।

Back to top button