खेल

बिलिंग्स के बाद अब रूट बोले- इस क्षेत्र में मजबूत है टीम इंडिया

नाटिंघम : टीम इंडिया का विश्व क्रिकेट में दबदबा तेजी से बढ़ रहा है। इसका अंदाजा पिछले दिनों इंगलैंड के विकेटकीपर सैम बिलिंग्स के उक्त बयान में झलका जिसमें उन्होंने कहा था कि भारत ही उन्हें विश्व कप में टक्कर देगा। अब इंगलैंड के प्रमुख बल्लेबाज जो रूट ने भी मान लिया है कि ऑस्ट्रेलिया सहित उनके हाल के प्रतिद्वंद्वियों की तुलना में भारत अलग तरह की चुनौती पेश करेगा। रूट ने कहा कि टीम इंडिया स्पिन के क्षेत्र में मजबूत है। कलाई के स्पिनर हमारे लिए समस्या बन सकते हैं। उन्होंने कहा कि वीरवार को शुरू हो रही तीन एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों की श्रृंखला में विराट कोहली की अगुआई वाली टीम को हराने के लिए मेजबान टीम को अपना सर्वश्रेष्ठ खेल दिखाना होगा। बता दें कि इंग्लैंड ने पिछले महीने घरेलू एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला में आस्ट्रेलिया को 5-0 से हराया था।

रूट ने कहा- लंबे समय से इस प्रारूप में भारत काफी मजबूत टीम है। वे जब पिछली बार यहां आए थे तो उन्होंने एकदिवसीय श्रृंखला जीती थी। मुझे पता है कि जिस टीम के खिलाफ हम खेले थे उससे यह टीम काफी अलग है लेकिन हम कहां खड़े हैं यह देखने का यह शानदार मौका है। उन्होंने कहा एकदिवसीय प्रारूप में हमने कुछ मजबूत क्रिकेट खेला है और भारत दुनिया की सर्वश्रेष्ठ एकदिवसीय टीमों में से एक है। हमने हाल के समय में जिन चुनौतियों का सामना किया वे उससे अलग चुनौती पेश करेंगे लेकिन हमें पता है कि अगर हम अपनी क्षमता के अनुसार खेलते हैं, सीखना और सुधार जारी रखते हैं तो हमारे खिलाफ खेलना आसान नहीं होगा विशेषकर घरेलू मैदान पर।

रूट ने साथ ही कहा कि उन्हें सीमित ओवरों की टीम में अपनी जगह गंवाने का डर नहीं है। उन्होंने कहा कि इसे लेकर मुझे कोई डर नहीं है। मैं सिर्फ यह देखना चाहता हूं कि सभी तीनों प्रारूपों में हमारी टीम संतुलित हो लेकिन मैं उनका हिस्सा बनना चाहता हूं। यह मुश्किल हैै क्योंकि मुझे टी 20 क्रिकेट खेलने के सीमित मौके मिले हैं लेकिन मेरे लिए इंग्लैंड के लिए खेलना सर्वोच्च है। इस श्रृंखला को दो सर्वश्रेष्ठ एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय टीमों की जंग माना जा रहा है जिनकी नजरें अगले साल होने वाले विश्व कप पर टिकी हैं।

रूट ने कहा कि यह श्रृंखला अच्छा संकेत देगी कि दोनों टीमों की स्थिति क्या है जबकि विश्व कप की शुरुआत में एक साल से भी कम समय बचा है। एकदिवसीय श्रृंखला के दौरान बल्लेबाजी के अनुकूल पिचों की उम्मीद है। ट्रेंटब्रिज की पिच इंग्लैंड के बल्लेबाजों को काफी रास आती है जिन्होंने तीन सत्र में यहां दो बार 400 से अधिक का स्कोर बनाया है। एकदिवसीय श्रृंखला में नजरें भारत के कलाई के स्पिनरों पर रहेंगी लेकिन मेहमान टीम को जसप्रीत बुमराह की कमी खलेगी जबकि पीठ में तकलीफ के कारण भुवनेश्वर कुमार का भी पहले वनडे में खेलना संदिग्ध

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.