प्रोटोकॉल के बदले नियम,प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जान को खतरा

प्रधानमंत्री को रोड शो से यथासंभव दूरी बनाकर रखने को कहा गया है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा को उस समय झटका लगा था जब पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की तरह मारने की साजिश से जुड़े पत्र पुलिस के हाथ लगे थे। इस खबर के बाद हड़कंप मच गया था। अब प्रधानमंत्री मोदी की सुरक्षा को लेकर गृह मंत्रालय ने नए नियम बनाए हैं जिनते तहत कोई भी नेता व्यक्ति पीएम मोदी के करीब नहीं आएगा, यहां तक मंत्री और अधिकारी भी।

किसी को भी पीएम के ज्यादा नजदीक जाने की इजाजत नहीं

जानकारी मुताबिक प्रधानमंत्री को रोड शो से यथासंभव दूरी बनाकर रखने को कहा गया है क्योंकि इसके रास्ते पहले से निर्धारित होते हैं और हमले का खतरा ज्यादा होता है। सूत्रों ने यह भी बताया कि किसी को भी पीएम के ज्यादा नजदीक जाने की इजाजत नहीं है। यदि कोई मंत्री पीएम के पास जाना चाहता है तो स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) उसकी तलाशी ले सकती है। क्लीयरेंस देने बाद ही उन्हें मोदी से मिलने की इजाजत मिल सकती है।

रोड शो कम करने की सलाह

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी को सुरक्षा एजेंसियों ने रोड शो के कार्यक्रम कम करने की सलाह दी है। खासकर छत्तीसगढ़, झारखंड, मध्य प्रदेश, ओडिशा, पश्चिम बंगाल में आने वाले चुनाव के दौरान पीएम मोदी की सुरक्षा को लेकर चिंता जाहिर की गई है। बता दें कि 2019 के लोकसभा चुनाव और उसके पहले राज्‍यों में होने वाले विधानसभा चुनावों में भाजपा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर ही चुनाव लड़ेगी और वही प्रचार की कमान संभालेंगे।

राजनाथ ने दिए थे निर्देश

गौरतलब है कि इससे पहले मोदी की जान को खतरे के मद्देनजर केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने उनकी सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता करने के निर्देश दिए थे। राजनाथ सिंह ने सिंह ने सुरक्षा एजेंसियों से पीएम मोदी की सुरक्षा व्यवस्था को और ज्यादा मजबूत करने के लिए कहा था। गृह मंत्री ने सुरक्षा एजेंसियों को निर्देश दिया कि वे सभी संबंधित एजेंसियों के साथ मिलकर प्रधानमंत्री की सुरक्षा को पुख्ता बनाने के सभी जरूरी उपाय करे।

Back to top button