भारतीय स्टेट बैंक के शाखाओं में चल रहा है लोन दिलाने के नाम पर दलाली

- अरविंद शर्मा

कोरबा: अभी कुछ समय पूर्व ही मानिकपुर शाखा के कारनामें सामने आये थे, जिसके बाद लगा कि शायद ये खेल बंद हुआ है पर ऐसा हो नहीं सका बल्कि लोन के दलाल अपने लिए कोई न कोई रास्ता निकाल ही लेते हैं अब सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शाखा ढेलवाडीह, बाँकी मोंगरा,

दिपका कुछ ज़्यादा ही सुर्खियों में छाने लगे हैं जहाँ कुछ लोन निकलवाने वाले कोरबा और रजगामार तो कुछ स्थानीय लोग यहाँ दिखाई देने लगे हैं जहाँ दलालो का अपना बैंक में कोई लेनदेन नहीं होता पर वो आपको आसानी दिन जायेंगे यह बात हमें खुद एक लोन निकलवाने वाले ने बताया,

आपको बता दे कि पर्सनल लोन के लिए किसी दलाल की जरूरत नहीं होती पर यह भी सोचने वाली बात है कि आखिर लोन निकलवाने वाले दलालो को यह कहाँ से जानकारी मिलती है कि कौन लोन लेना चाहते हैं जानकारी के अनुसार लोन दिलाने वाले 8% से 10% की मांग करते हैं,

यह हम आरोप नहीं लगा रहे यह बात तब हमें पता चली जब एक लोन निकलवाने वाले ने दूसरे लोन निकलवाने वाले की सूचना हमें दी, इसपर हमने कुछ बैंक के छोटे कर्मचारी से संपर्क किया तो दबे मुंह पता चला कि कुछ लोगों की फाइलें कुछ दलाल लाये हैं पर उसने निवेदन किया कि उसका नाम न बताया जाए,

दलाल अनाब-सनाब कुछ भी मांगते है और ग्राहक देने को मजबूर है मुख्य कारण लोगों की अज्ञानता है और इसका पूरा फायदा लोन के दलाल उठाते हैं खैर स्थानीय पुलिस और संबंधित विभाग अगर ध्यान दें तो लोगों के मेहनत की गाढी कमाई को बचाया जा सकता है।

Back to top button