राष्ट्रीय

रूपेश हत्याकांड : दिल्ली-एनसीआर के 380 गांवों की होगी महापंचायत

रूपेश को शहीद का दर्जा देने की मांग

नई दिल्ली :

दिल्ली-एनसीआर के 380 गांवों की महापंचायत आज शाम चार बजे तैमूर नगर गांव में होगी जिसमे तैमूर नगर में रूपेश बसोया की हत्या के मामले में उन्हे शहीद का दर्जा दिलाने के मामले पर विचार होगा।

दूसरी तरफ मृतक रूपेश के परिजन शुक्रवार शाम को दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक से मिले। पुलिस आयुक्त ने परिवार को न्याय दिलाने का आश्वासन दिया।

मृतक रूपेश के भाई उमेश बसोया ने बताया कि उसने व उसके भाई रूपेश ने ड्रग्स सप्लायर व माफिया के खिलाफ अभियान चला रखा था। रूपेश को शहीद का दर्जा दिया जाए। इसी मुद्दे पर शनिवार को महापंचायत बुलाई गई है।

उमेश ने आरोप लगाया है कि पुलिस पंचायत नहीं होने देना चाहती है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार, अगर ये पंचायत बड़े पैमाने पर हुई तो एनएफसी, आश्रम, मथुरा रोड और रिंग रोड समेत आसपास के मार्गों पर जाम लग सकता है। दक्षिण-पूर्व जिला डीसीपी चिन्मय बिश्वाल का कहना है कि उन्हें पता नहीं है कि पंचायत के लिए अनुमति ली गई है या नहीं।

हत्याकांड के आरोपी रिमांड पर

महरौली थाना पुलिस ने हत्याकांड के तीनों आरोपियों आकाश, अजय व सूरज को तीन दिन की पुलिस रिमांड पर लिया है। पुलिस का कहना था कि आरोपियों के साथी फरार हैं। साथ ही ये भी पता करना है कि आरोपियों ने हथियार कहां से लिए थे। आरोपियों को शुक्रवार दोपहर को साकेत कोर्ट में पेश किया गया था।

Back to top button