मनोरंजन

सा रे गा मा पा के राइजिंग स्टार जुबेर हाशमी का एक नया गाना हुआ रिलीज

लियाकत शाह:

मुंबई: सुल्तानपुर फ्लैश-बॉलीवुड सिंगर जुबेर हाशमी का नया गाना हुआ रिलीज, यु ट्यूब के म्यूजिक गोदाम चैंनल पर सिंगर जुबेर हाशमी का सूफी गाना धनक रंग हुआ रिलीज,लगातार गाना सुनने वालो कि बढ़ रही है कतार, इस लांच सूफी गाने की बढ़ रही लोकप्रियता, आइये एक नजर डालते है बॉलीवुड सिंगर जुबेर हाशमी के जीवनी पर।

जानकारी मुताबिक सुरो के तालीम की शुरुआत जुबेर हाशमी ने अपने पिता से की थी। बताया जाता है कि उनके पिता मो वसीम हाशमी भी गायक थे, और जुबेर हाशमी ने पहली संगीत की शिक्षा दीक्षा अपने पिता से ग्रहण की और निकल पड़े वहां जहां हर कलाकार के सपनो को मिलती है उड़ान यानी कि मुम्बई,

सिंगर जुबेर हाशमी ने आगे संगीत की शिक्षा मुम्बई मे ली और संगीत के रियल्टी शो में अपने शूरो के जादू को बिखेरने के लिए आगे आए जी टीवी के मशहूर शो सा रे गा मा पा के टॉप ११ व कलर्स टीवी के राइजिंग स्टार शो के फाइनलिस्ट ३ में आकर जुबेर हाशमी ने अपनी आवाज की बुलंदी को जन जन तक पहुँचाया,

यही से अपने कैरियर की शुरुआत करते हुए जुबेर हाशमी ने देश मे ही नही विदेशो में भी अपने आवाज के जलवे बिखेरे, कई बॉलीवुड नामचीन हस्तियों के साथ गाना गाया, बॉलीवुड के धुरन्धर सिंगर मिक्का सिंह के साथ प्ले बैक सिंगर के रूप में भी गाना गा चुके है सिंगर जुबेर हाशमी,

ये सफर का करवा यू नही थमा २०१९ में आयुष्मान भारत योजना थीम गाने में भी जुबेर हाशमी अपनी आवाज को बुलंद कर चुके है, इस बाबत जब सिंगर जुबेर हाशमी से दूरभाष पर वार्ता की गई तो उन्होंने बताया कि मुझे खुशी है मेरा नया गाना धनक रंग लोगो को पसंद आ रहा है, मुझे उम्मीद है यह हर किसी की जुबान पर गुनगुनायेगा,

साथ साथ उन्होंने की कहा मुझे मेरे गृह जनपद सुल्तानपुर वाशियो का सदा स्नेह और प्यार मिला है उम्मीद है ऐसे ही आगे मिलता रहेगा, उन्होंने अपनी कामयाबी के पीछे सबसे पहले अपने पिता व संगीत गुरुओ का आशीर्वाद बताया और कहा कि मेरे पिता ने मुझे संगीत की वो तालीम दी कि मैं आगे वरिष्ठ संगीत गुरु जनो का शिष्य बन सकू और आज मैं जिस भी मुकाम पर हु उसका श्रेय पिता और गुरुओ का है,

उसके बाद उन्होंने कहा की पिता और गुरु ने संगीत की तालीम तो दी ही साथ ही मेरे जिले वाशियो और मेरे प्रशंसकों के प्यार आशीर्वाद के बिना सब अधूरा रह जाता उनका स्नेह और प्यार आज मुझे इस मुकाम तक पहुचाया है और आगे भी उसी प्यार की बदौलत सफलता की सीढ़ियों को चढ़ूंगा,

उन्होंने यह भी कहा कि जैसे मैं मुम्बई हाशमी मियूजिकल क्लास चलाता हु वैसे ही अपने जनपद सुल्तानपुर में एक मियूजिक क्लास खोलना चाहता हु ताकि मेरे जनपद में भी संगीत के और भी धुरन्धर निकल सके जो आगे चलकर जिले का नाम रोशन सके,

जुबेर हाशमी यू तो जिले के अर्जुनपुर गांव निवासी है, और जिले यूथ आई कान के रूप जाने जाते है,पूर्व मे जिले के जिलाधिकारी रहे आई ए एस एस राज लिंगम ने सिंगर जुबेर हाशमी को यूथ आइकॉन की पदबी से नवाजा था।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button