SA vs SL: स्टेन ने विशेष उपलब्धि की हासिल, कपिल देव के रिकॉर्ड की बराबरी

दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज डेल स्टेन के लिए श्रीलंका के खिलाफ बुधवार को डरबन में पहले टेस्ट मैच का खास बन गया|

स्टेन ने लाहिरू थिरिमाने का विकेट लेने के साथ ही महान भारतीय ऑलराउंडर कपिलदेव की बराबरी कर ली।

दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज डेल स्टेन के लिए श्रीलंका के खिलाफ बुधवार को डरबन में पहले टेस्ट मैच का खास बन गया|

क्योंकि उन्होंने एक विशेष उपलब्धि अपने नाम की। स्टेन ने लाहिरू थिरिमाने का विकेट लेने के साथ ही महान भारतीय ऑलराउंडर कपिलदेव की बराबरी कर ली।

इस टेस्ट मैच के पहले दिन द. अफ्रीका की पहली पारी 235 रनों पर सिमट गई। इसके जवाब में श्रीलंका ने पहले दिन की समाप्ति तक 16 ओवरों में 1 विकेट पर 49 रन बना लिए है।

इस तरह मेहमान टीम अभी भी द. अफ्रीका की पहली पारी के स्कोर से 186 रन पीछे है जबकि उसके 9 विकेट शेष हैं। श्रीलंकाई पारी का एकमात्र विकेट स्टेन ने हासिल किया।

स्टेन ने जैसे ही थिरिमाने (0) को विकेटकीपर क्विंटन डी कॉक के हाथों झिलवाया, उन्होंने खास मुकाम हासिल कर लिया। यह स्टेन का टेस्ट क्रिकेट में 434वां विकेट हैं|

वे कपिल की बराबरी पर पहुंच गए। कपिल ने 1978 से 2019 तक के अपने टेस्ट करियर में 131 मैचों में 29.64 की औसत से 434 विकेट लिए थे।

स्टेन ने 17 दिसंबर 2004 को पोर्ट एलिजाबेथ में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया था। उन्होंने 92वें टेस्ट मैच में 434वां विकेट लिया।

अब वे टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में संयुक्त रूप से आठवें स्थान पर पहुंचे। उनके पास इस टेस्ट के दौरान इंग्लैंड के स्टुअर्ट ब्रॉड को पीछे छोड़ने का मौका रहेगा|

जिन्होंने 126 मैचों में 437 विकेट लिए थे। स्टेन को उन्हें पीछे छोड़ने के लिए 4 विकेट और लेने होंगे।
श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन 133 टेस्ट मैचों में 800 विकेट के साथ इस लिस्ट में टॉप पर हैं।

टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट

800 विकेट मुथैया मुरलीधरन (श्रीलंका/आईसीसी)

708 विकेट शेन वॉर्न (ऑस्ट्रेलिया)

619 विकेट अनिल कुंबले (भारत)

575 विकेट जेम्स एंडरसन (इंग्लैंड)

563 विकेट ग्लेम मॅक्ग्राथ (ऑस्ट्रेलिया)

519 विकेट कोर्टनी वॉल्श (वेस्टइंडीज)

437 विकेट स्टुअर्ट ब्रॉड (इंग्लैंड)

434 विकेट डेल स्टेन (द. अफ्रीका)

434 विकेट कपिल देव (भारत)

Back to top button