बड़ी खबरराजनीतिराष्ट्रीय

सचिन पायलट नकारा-निकम्मा हैं: अशोक गहलोत

अशोक गहलोत ने कहा कि सचिन पायलट ने जिस रूप में खेल खेला वो बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है.

नई दिल्ली: राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gahlot) ने एक बार फिर सचिन पायलट (Sachin Pilot) पर हमला बोला है. अशोक गहलोत ने कहा कि सचिन पायलट ने जिस रूप में खेल खेला वो बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है. किसी को यकीन नहीं होता कि ये व्यक्ति ऐसा कर सकता है. मासूम चेहरा, हिंदी इंग्लिश पर अच्छी कमांड और पूरे देश की मीडिया को प्रभावित कर रखा है. अशोक गहलोत ने कहा कि “एक छोटी खबर भी नहीं पढ़ी होगी किसी ने कि पायलट साहब को कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष के पद से हटाना चाहिए. हम जानते थे कि वो (सचिन पायलट) निकम्मा है, नकारा है, कुछ काम नहीं कर रहा है खाली लोगों को लड़वा रहा है.

अशोक गहलोत ने कहा कि हमारे अपने सचिन पायलट सात साल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष रहे, ये बड़ी बात है. सोनिया गांधी, राहुल गांधी का विश्वास उठ गया है. सचिन ने पिछले 6 महीने में साजिश की. ये सब भारतीय जनता पार्टी के सहयोग से किया. थर्ड फ्रंट बना लेंगे. विधायकी से इस्तीफा दे देंगे. चुनाव लड़ेंगे तो बीजेपी का कोई आपके समर्थन में खड़ा नहीं होगा. नौजवान साथी हमारा जो 25 साल की उम्र में सांसद बना. केंद्रीय बन गया. 32-33 साल में प्रदेश अध्यक्ष बन जाओ, डिप्टी सीएम बन जाओ. किसी को यकीन नहीं होता था कि ये शख्स ऐसा काम कर सकता है.

इतना सब मिला. 10-12 साल के गेम में आप सब कुछ बन गए. इतनी उम्र में इतना मिल जाए, ऐसा नहीं होता है. वो तो जनता जानती है कि कितना किसका योगदान था. हमने कभी कोई सवाल नहीं किया कि क्या काम कर रहे हो. कितना काम कर रहे हो. कभी सवाल नहीं किया. जबकि सचिन पायलट पिछले 6 महीने से बीजेपी के साथ मिलकर साजिश रच रहे थे.

अशोक गहलोत ने ये भी कहा कि जो विधायक सचिन पायलट के साथ हैं, वह परेशान हैं. उनके फ़ोन छीन लिए गए हैं. वह वापसी चाहते हैं और हमें किसी तरह फ़ोन करते हैं और रोकर अपना हाल बताते हैं. बता दें कि अशोक गहलोत इससे पहले भी सचिन पायलट पर तीखा हमला कर चुके हैं. राजस्थान में बगावत के बाद से लगातार सचिन पायलट पर गहलोत हमलावर हैं.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button