जब तमिल का एक शब्द समझकर सचिन तेंदुलकर ने फेल कर दिया था विरोधी टीम का प्लान

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और सर्वकालिक महान बल्लेबाजों में शुमार किए जाने वाले सचिन तेंदुलकर के एक पहलू के बारे में कम ही लोग जानते हैं। इसके बारे में किसी और नहीं खुद सचिन तेंदुलकर ने लोगों को बताया। सोमवर (23 अक्टूबर) को पत्रकार राजदीप सरदेसाई की किताब डेमोक्रेसी इलेवन के उद्घाटन के मौके पर बोलेत हुए सचिन ने घरेलू मैच में मुंबई की तरफ से तमिलनाडु के खिलाफ खेले गये एक मैच का वाकया साझा किया।

सचिन ने कहा, “चूंकि हम भाषा की बात कर रहे हैं तो मुझे अब भी याद है कि हम मुंबई में तमिलनाडु के खिलाफ खेल रहे थे गेंद रिवर्स स्विंग होने लगी थी। उन्होंने गेंद बदल ली थी। मैं क्रीज से दो फीट बाहर खड़ा था ताकि गेंदबाज को लेंथ बिगाड़ सकूं। प्वाइंट पर खड़े फील्डर हेमंग बडानी ने गेंदबाद से कुछ कहा। उन्होंने कहा, “मुन्नड़ि मुन्नड़ि” (आगे, आगे) लेकिन वो भूल गये कि मैंने भारतीय क्रिकेट टीम में 15 साल तक चेन्नई के खिलाड़ियों के संग ड्रेसिंग रूम शेयर किया है और मुझे थोड़ी बहुत तमिल समझ आती है।”

सचिन ने बताया कि किस तरह उन्होंने तमिल की अपनी जानकारी का लाभ मैच में उठाया। सचिन ने कहा, “…इसलिए मैं मुन्नड़ि और पिन्नड़ि (आगे, पीछे) के हिसाब से मैं अपना स्टांस बदलता रहता था ताकि हेमंग गेंदबाज को जो बता रहे हैं उसके हिसाब से मैं अपनी स्थिति ठीक उलटी कर लेता था। कई बार इससे आपको फायदा हो जाता है।”

हेमंग बडानी ने सचिन तेंदुलकर के इस बयान का वीडियो ट्वीट पर शेयर किया है। बडानी ने इस वाकये को याद दिलाने के लिए सचिन को शुक्रिया भी कहा है।

advt
Back to top button