मध्यप्रदेश

मध्यप्रदेश/ व्यवसाय के साथ जनता के स्वास्थ्य की सुरक्षा हमारी सबकी जिम्मेदारी

सोशल डिस्टेंसिंग के साथ होगा दुकानों का संचालन, बिना मास्क मास्क वाले व्यक्तियों को ना दे सामान - कलेक्टर पिथौड़े

भोपाल : कोरोना संक्रमण से बदल गई है दुनिया, हमें भी बदलना होगा। भोपालवासियों के स्वास्थ्य की सुरक्षा हमारी पहली प्राथमिकता है। कोरोना की विषम परिस्थितियों में जन स्वास्थ्य को ध्यान रखते हुए सभी दुकानों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित हो। कलेक्टर तरुण पिथौड़े ने जनता के स्वास्थ की सुरक्षा के साथ आगामी दिनों में मार्केट खुलने संबंधी व्यापारी संघ की बैठक में कहीं।

कलेक्टर सभाकक्ष में व्यापारी संघ की बैठक में पूर्व महापौर आलोक शर्मा, डीआईजी इरशाद वली, अपर कलेक्टर सतीश कुमार एस, सर्राफा इब्राहिमपुरा,लोहा बाजार,राजधानी सहित विभिन्न व्यापारी संघ के अध्यक्ष और जनप्रतिनिधि शामिल थे।

कलेक्टर पिथोडे ने भोपाल में जन स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए सभी व्यापार व्यापारियों से अपील की कि दुकानों का संचालन सोशल डिस्टेंसिंग के साथ करें।मास्क नहीं पहनने वालों को सामान विक्रय ना करें।अगर संभव हो तो सभी व्यापारी थर्मल स्क्रीनिंग की गन खरीद ले और आने वाले खरीदारों की ट्रेनिंग करें। कंटेनमेंट क्षेत्रों में शत-प्रतिशत दुकान और व्यापार बंद रहेगा। आप सभी व्यापारियों से अपेक्षा है कि आप जनहित में सभी शासकीय आदेशों का पालन करेंगे। आप सभी सुरक्षित रूप से अपना व्यवसाय करें। इसका ख्याल रखे कि जनता को भी परेशानी ना हो और उनकी सुरक्षा भी बनी रहे।

बैठक में व्यापारी संघ की तरफ से

बैठक में व्यापारी संघ की तरफ से भोपाल शहर में मार्केट खोलने और दुकानों के संचालन के संबंध में सुझाव रखे गए। इनमे रविवार छोड़कर अन्य सभी दिनों में सुबह 11 से शाम 5 बजे तक दुकानों का संचालन हो। मार्केट में दुकानें खोली जाए, सुलभ शौचालय की नियमित सफाई और दुकानों के खुलने और बंद होने के बाद पूरी तरह सैनिटाइजेशन करने संबंधी सुझाव प्रमुख रहे।
पूर्व महापौर श्री आलोक शर्मा ने भोपाल में कोरोना जैसी महामारी से सफलतापूर्वक लड़ाई लड़ने के लिए कलेक्टर एवं पूरी टीम की सराहना की। उन्होंने कहा आपकी टीम पूरी मुस्तैदी से कार्य कर रही है जो प्रशंसनीय हैं। आप अपनी जान को जोखिम में डालकर जनहित में कार्य कर रहे हैं।

हम सभी भोपाल वासियों को भी खुद की सुरक्षा के लिए एहतियात बरतने होंगे। हमें दुकानों का संचालन संबंधी व्यवस्थाएं राजनीतिक आधार पर तय ना करते हुए प्रशासनिक आधार पर तय करना चाहिए। सभी व्यवसाई अपनी दुकानों में सोशल डिस्पेंसिंग का पालन करें।इनमें कुछ बातों का विशेष ध्यान रखें की दुकान के बाहर का पटिया किराए से नहीं दे। स्वच्छता का ध्यान रखें। दुकान के बाहर टांगन, कंगन लगाकर एक दूसरे से प्रतिस्पर्धा ना करें। सर्राफा ,लखेरापूरा ,सावरकर चौक में कोई दुकानदार या सेल्समैन स्कूटर लेकर ना आए ताकि भीड़-भाड़ की और ट्रैफिक जाम की स्थिति उत्पन्न ना हो। जुमैराती से लोहा बाजार तक बैरिकेडिंग लगाकर वाहनों की आवाजाही रोकने में प्रशासन सहयोग करें।

हॉटस्पॉट बने मंगलवारा, जुमेराती , जहांगीराबाद और अन्य संवेदनशील क्षेत्र के व्यवसायी और जनप्रतिनिधि प्रशासन का सहयोग करें। हम सबको मिलकर कार्य करना है और एक आदर्श उदाहरण पूरे देश में प्रस्तुत करना है।

डीआईजी इरशाद वली ने कहा

डीआईजी इरशाद वली ने कहा भोपाल वासियों की सुरक्षा और कानून व्यवस्था बनाए रखना हमारी प्राथमिकता है। हम अभी तक कोरोना संक्रमण को एक सीमित क्षेत्र में रोकने में कामयाब रह चुके हैं आगे भी हमें इसी तरह एक दूसरे का सहयोग और कार्य करना होगा। हॉटस्पॉट बने मंगलवारा, जुमेराती जैसे क्षेत्रों में विशेष ध्यान देना होगा। यह देखा गया है कि एक ही स्थान पर जिनका घर और दुकान है वहां व्यक्ति अधिक संक्रमित हो रहे हैं इसीलिए अपनी दुकान और अपना मकान स्वयं जागरूक होते हुए सुरक्षित रखना होगा। भोपाल एवं भोपाल वासियों के हित में यह अति आवश्यक है कि हम इस मामले को गंभीरता से लें और स्व अनुशासन का पालन करें।

Tags
Back to top button
%d bloggers like this: