सलमान को वाल्मीकि समुदाय टिप्पणी मामले में राहत

‘टाइगर जिन्दा है’ के प्रचार के दौरान ‘वाल्मीकि’ समुदाय के प्रति कथित रूप से अपमानजनक टिप्पणियां करने का आरोप

नई दिल्ली: अलग-अलग मामलों में कोर्ट-कचहरी के चक्कर काट रहे सलमान खान को एक मामले में कोर्ट से राहत मिली है. सुप्रीम कोर्ट ने एक समुदाय के प्रति कथित अपमानजनक टिप्पणियों के संबंध में अभिनेता सलमान खान के खिलाफ कार्यवाही और जांच पर सोमवार को रोक लगा दी. सलमान खान ने अपनी फिल्म ‘टाइगर जिन्दा है’ के प्रचार के दौरान ‘वाल्मीकि’ समुदाय के प्रति कथित रूप से अपमानजनक टिप्पणियां की थीं.

प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति एएम खानविलकर और न्यायमूर्ति धनन्जय वाई. चन्द्रचूड़ की तीन सदस्यीय खंडपीठ ने अधिवक्ता एनके कौल के इस अनुरोध पर विचार किया कि सलमान खान के खिलाफ कार्यवाही पर रोक लगाई जाए. कौल ने कहा कि अभिनेता के खिलाफ दिल्ली, गुजरात, राजस्थान और मुंबई में कुछ मामले दर्ज किए गए हैं. इस पर पीठ ने उनसे कहा कि सलमान के खिलाफ लंबित मामलों का विवरण उपलब्ध कराया जाए. इसके बाद पीठ ने इन मामलों में कार्यवाही पर रोक लगा दी. हालांकि कोर्ट उन मामलों की सुनवाई जारी रखेगा, जिनमें रिपोर्ट दर्ज की गई है. इस पर अब अगली सुनवाई 23 जुलाई को होगी.

सलमान खान ने अपनी फिल्म के प्रचार के दौरान एक समुदाय के प्रति कथित रूप से अपमानजनक टिप्पणियां की थीं. इसे लेकर उनके खिलाफ अनुसूचित जाति एवं जनजाति (अत्याचार निवारण) कानून के प्रावधानों के तहत अनेक मामले दर्ज किए गए थे.

Back to top button