स्वार्थ के लिए हुआ समाजवादी पार्टी और बसपा का गठबंधन : मुख्यमंत्री योगी

लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में एक चैनल के कार्यक्रम के दौरान बोले योगी

लखनऊ: लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में एक चैनल के कार्यक्रम में रविवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हिस्सा ले रहे थे। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि जनता समझ रही है कि समाजवादी पार्टी और बसपा क गठबंधन का क्या उद्देश्य है और भविष्य है?

गठबंधन यह नहीं बता रहा है कि प्रधानमंत्री पद का चेहरा मायावती होंगी या मुलायम सिंह यादव? योगी आदित्यनाथ ने दावा किया कि नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भाजपा इस बार भी प्रचंड बहुमत से चुनाव में जीतेगी।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि समजावादी पार्टी (सपा) और बसपा का गठबंधन स्वार्थ के लिए हुआ है। इसके लिए सपा बड़ी उतावली भी थी। दोनों पार्टियों के एकसाथ आने उन्हें निपटाना भाजपा के लिए और भी आसान होगा। बसपा यदि गठबंधन में 10 सीटें भी देती तो भी सपा लेने को तैयार थी।

इससे पहले कुंभ के आयोजन पर बोलते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस समय प्रयागराज में 71 देशों का झंडा लहरा रहा है जो कुंभ को वैश्विक समर्थन का प्रतीक है। इन सभी 71 देशों के राजदूतों ने स्वयं प्रयागराज आकर अपने देश का राष्ट्रध्वज यहां स्थापित किया है। प्रदेश सरकार प्रयास कर रही है कि आगामी 22 फरवरी को दुनिया के 192 देशों के प्रतिनिधि प्रयागराज कुंभ में सहभागी बनें।

उन्होंने कहा कि कुंभ मानवता का सबसे बड़ा आध्यात्मिक और सांस्कृतिक समागम है। यही वजह है कि यूनेस्को ने इसे मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक धरोहर के रूप में मान्यता दी हुई है। मानवता का यह समागम संगम इस बार अलौकिक, आध्यात्मिक और सांस्कृतिक घटना के रूप में याद किया जाएगा।

Back to top button