राष्ट्रीय

गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव के लिये समाजवादी पार्टी ने घोषित किये अपने उम्मीदवार

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (सपा) ने गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीटों के उपचुनाव के लिये अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर दी. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रेस कांफ्रेंस में गोरखपुर सीट के उपचुनाव के लिये प्रवीण निषाद को पार्टी का प्रत्याशी घोषित किया. बाद में पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक में उन्होंने फूलपुर सीट से नागेन्द्र प्रताप सिंह पटेल की उम्मीदवारी पर भी मुहर लगा दी. सपा के राष्ट्रीय सचिव एवं प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने बताया कि प्रवीण ‘निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल’ (निषाद पार्टी) के अध्यक्ष संजय निषाद के बेटे हैं, जिन्होंने आज ही सपा की सदस्यता ग्रहण की है. वहीं, फूलपुर सीट से उम्मीदवार नागेन्द्र पटेल पूर्व में सपा की राज्य कार्यकारिणी में रह चुके हैं.

पिछले विधानसभा चुनाव में सपा की सहयोगी रही कांग्रेस इन दोनों सीटों पर पहले ही अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर चुकी है. अखिलेश ने प्रेस कांफ्रेस के दौरान कांग्रेस के साथ गठबंधन के भविष्य के संबंध में किये गए सवालों का कोई सीधा जवाब ना देते हुए कहा, ‘‘हमारा मुख्य उद्देश्य चुनाव में साम्प्रदायिक शक्तियों को हराना है.’’

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि वह गोरखपुर की जनता से इस उपचुनाव में सच्चाई के साथ मैदान में उतरने वालों का साथ देने की अपील करेंगे. उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में पिछले साल ऑक्सीजन की कमी से सैकड़ों मासूम बच्चों की जान चली गयी, लेकिन सरकार ने कोई खास कदम नहीं उठाये. बाद में वहां के प्राचार्य के दफ्तर में आग लगने से महत्वपूर्ण सबूत भी जलकर राख हो गये.’’

गौरतलब है कि गोरखपुर लोकसभा सीट योगी आदित्यनाथ के उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के कारण इस्तीफा देने और फूलपुर लोकसभा सीट उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के त्यागपत्र दिये जाने की वजह से रिक्त हुई हैं. इन सीटों उपचुनाव के लिए मतदान 11 मार्च को होना है. परिणाम 14 मार्च को घोषित होंगे. प्रदेश के पूर्वांचल की दो छोटी पार्टियों निषाद पार्टी और पीस पार्टी के अध्यक्ष क्रमशः संजय निषाद और अय्यूब अंसारी सपा के साथ गठजोड़ कर उप चुनाव लड़ने की घोषणा कर चुके हैं.

अखिलेश ने कहा कि उनकी पार्टी उपचुनाव के लिये पूरी तरह तैयार है और वह जीत भी हासिल करेगी. सपा इन उपचुनावों में जनता के बीच लोकसभा और उत्तर प्रदेश विधानसभा के पिछले चुनाव में जारी भाजपा के घोषणा पत्रों को ले जाकर उसके झूठ का पर्दाफाश करेगी. भाजपा ने पहले चाय पर चर्चा करके उलझाया, अब ‘पकौड़े’ पर उलझाने की तैयारी कर ली है. उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘किसान कर्ज की वजह से मर रहे हैं और इनके सहयोग से लोग कागज पर प्लान दिखाकर सरकारी बैंक से अरबों-खरबों रुपए लेकर विदेश भाग गए.’’

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.