समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खान की हालत स्थिर, ICU में किया गया शिफ्ट

मौत की अफवाह को लेकर तमाम अटकलों पर विराम लगा दिया गया

लखनऊ:समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खान की हालत स्थिर है और उन्हें ICU में शिफ्ट किया गया है. उनका मेदांता अस्पताल में इलाज किया जा रहा है. मेंदाता अस्पताल की तरफ से उनकी मौत की अफवाह को लेकर तमाम अटकलों पर विराम लगा दिया गया है.

सपा नेता आजम खान की हालत स्थिर

मेदांता अस्पताल के मेडिकल डायरेक्टर डॉ राकेश कपूर ने बताया कि आजम खान को सीतापुर जेल से हमारे यहां 2 दिन पहले ट्रांसफर किया गया है. शुरू में हमने उनको कोविड वार्ड में शिफ्ट किया था. लेकिन फिर आजम खान साहब की ऑक्सीजन की डिमांड बढ़ गई और उनको 8 से 10 लीटर की ऑक्सीजन देनी पड़ रही थी, ऐसे में उन्हें आईसीयू में गहन ऑब्जरवेशन में रखा गया है.

वहीं राकेश कपूर ने आगे बताया कि हालांकि अभी वह स्टेबल हैं लेकिन कोरोना में प्रत्येक घंटे हर चीजें बदलती रहती हैं, इसलिए वे क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग की टीम की निगरानी में रखे गए हैं. कोविड निमोनिया होने के कारण उनका ऑक्सीजन लेवल कम हो गया है और आशा है कि वे जल्द ठीक हो जाएंगे

ICU में शिफ्ट किए गए हैं आजम

आज़म खान के पुत्र के बारे में जिक्र करते हुए बताया गया है कि वे बिलकुल स्टेबल हैं और उन्हें कोई समस्या नहीं है. जानकारी के लिए बता दें कि आजम खान 1 मई को कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. वे उस समय सीतापुर जेल में बंद थे.

सपा नेता को सर्दी जुकाम की शिकायत थी. उसके बाद ही जेल प्रशासन की तरफ से उनका कोविड टेस्ट करवाया गया और वे संक्रमित निकले. अब अभी उनका मेंदाता अस्पताल में इलाज जारी है. उनकी ऑक्सीजन लेवल कम जरूर हुई है, लेकिन फिर भी वे स्टेबल बताए जा रहे हैं.

फरवरी 2020 सीतापुर जेल में बंद

मालूम हो कि आजम खान फरवरी 2020 से ही सीतापुर जेल में बंद हैं. उन पर रामपुर में अवैध जमीन कब्जाने और फर्जी प्रमाणपत्र बनाने जैसे कई आरोप लगे हैं. उनकी पत्नी डॉ तंजीम फातिमा भी जेल में बंद थीं,लेकिन कुछ समय पहले ही उन्हें जमानत मिल चुकी है और वे जेल से बाहर हैं.

आजम के बेटे अब्दुल्ला पर भी फर्जी प्रमाणपत्र से जुड़े कई मामले दर्ज हैं और वे भी पिता संग जेल में ही बंद हैं. एक तरफ आजम पर 80 से ज्यादा मुकदमे दर्ज बताए जा रहे हैं तो वहीं उनके बेटे अब्दुल्ला पर भी 40 से ज्यादा केस दर्ज हैं.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button