छत्तीसगढ़

सीरो सर्विलेंस के लिए 7 जिलों में सैंपल कलेक्शन का काम पूरा

आईसीएमआर की टीम 10 जिलों से लेगी 500-500 सैंपल, प्रत्येक जिले से आम लोगों के 240 और उच्च जोखिम वर्गों के 260 सैंपल

ब्यूरो चीफ : विपुल मिश्रा

रायपुर. 23 सितम्बर 2020. छत्तीसगढ़ में सीरो सर्विलेंस के लिए सात जिलों में सैंपल कलेक्शन का काम पूरा हो गया है। आईसीएमआर की टीम आम लोगों और उच्च जोखिम वाले वर्गों में कोरोना संक्रमण के विरूद्ध रोग प्रतिरोधकता का पता लगाने के लिए प्रदेश के दस जिलों से 500-500 सैंपल संकलित कर रही है। इनमें आम लोगों के 240 और ज्यादा जोखिम वाले समूहों के 260 सैंपल शामिल हैं। अभी तक सात जिलों से कुल 3500 सैंपल संकलित किए गए हैं। इनकी रिपोर्ट से प्रदेश में कोरोना संक्रमण से निपटने की प्रभावी रणनीति तैयार करने में मदद मिलेगी। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अंतर्गत राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, छत्तीसगढ़ द्वारा आईसीएमआर के विशेषज्ञों से सीरो सर्विलेंस कराया जा रहा है।

सीरो सर्विलेंस के लिए चयनित दस जिलों के

सीरो सर्विलेंस के लिए चयनित दस जिलों के दो-दो विकासखंडों के तीन-तीन क्लस्टर्स से सैंपल एकत्र किए जा रहे हैं। इसमें ग्रामीण और शहरी दोनों इलाकों को शामिल किया गया है। आईसीएमआर की टीम ने रायपुर जिले के तिल्दा विकासखंड के अड़सेना, बिलाड़ी और खौना तथा धरसींवा (रायपुर) के सेरीखेड़ी, सिलयारीखुर्द और सांकरा में सैंपल कलेक्शन किया है। सीरो सर्विलेंस के लिए दुर्ग जिले के पाटन विकासखंड के मोतीपुर, सेलूद और खर्रा से तथा दुर्ग विकासखंड के मोहलई, समोदा और कोकड़ी से सैंपल संकलित किए गए हैं। राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ विकासखंड के रांका, मुरमुंदा और मेधा से तथा राजनांदगांव विकासखंड के सुरगी, रेंगाकठेरा और नवागांव से सैंपल लिए गए हैं।

आईसीएमआर की टीम

आईसीएमआर की टीम ने दूसरे चरण में बलौदाबाजार-भाटापारा, बिलासपुर, मुंगेली और जांजगीर-चांपा जिले में सैंपल कलेक्शन किया। इनमें बलौदाबाजार-भाटापारा के भाटापारा विकासखंड के गोढ़ी, केसला और गुर्रा तथा बलौदाबाजार विकासखंड के कोरबा, पानगांव और टिंडा, अविभाजित बिलासपुर जिले के पेंड्रा विकासखंड के बचरवार, पतगवां व गिरारी तथा बिल्हा (बिलासपुर) विकासखंड के बेलतरा, बिरकोनी और खमतराई, मुंगेली के पथरिया विकासखंड के भिलाई, धुमा और बेलसुरी तथा मुंगेली विकासखंड के चमारी, बोड़ा व भठारी, जांजगीर-चांपा के नवागढ़ (जांजगीर) विकासखंड के धुरकोट, खोखरा व सरखों तथा बम्हनीडीह (चांपा) विकासखंड के बिर्रा, चोरिया और कोसमंदा शामिल है।

सैंपल कलेक्शन के तीसरे चरण में टीम द्वारा कोरबा, जशपुर और बलरामपुर-रामानुजगंज जिलों में सैंपल संकलित किए जाएंगे। इनमें कोरबा के कटघोरा विकासखंड के अरदा, बटारी और भिलाईबाजार तथा कोरबा विकासखंड के बरपाली, भैसमा व दोन्द्रो, जशपुर के फरसाबहार विकासखंड के केरसाई, कोलेंझरिया व भेलवां तथा जशपुर विकासखंड के अर्रा, बनईबड़ा और गम्हरिया, बलरामपुर-रामानुजगंज के रामचंद्रपुर विकासखंड के चतरपुर, सुंदरपुर व धौली तथा बलरामपुर विकासखंड के तातापानी, सेंदुर और धनगांव शामिल हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button