छत्तीसगढ़

स्वच्छताः देश में पहला स्थान पाने के लिए नगर निगम ने झोंकी ताकत

अंकित मिंज

बिलासपुर। साफ-सफाई को लेकर शहर को चकाचक करने का दावा करने वाले निगम प्रशासन ने इस बार केंद्रीय स्वच्छता रैंकिंग में फस्र्ट पोजिशन लाने पूरी ताकत झोंक दी है।

विशेष शौचालयों की सुविधाओं में विस्तार करने के बाद अब खुले प्लाटों में प़े कूड़े को साफ करा कर वहां गार्डन विकसित किए जा रहे हैं। पिछली बार केंद्रीय स्वच्छता सर्वेक्षण टीम द्वारा देश भर के 4000 से अधिक शहरों की सफाई कार्य का सर्वे कराने के बाद बिलासपुर नगर निगम को 22 वी रैंकिंग प्रदान की गई ।

इससे उत्साहित निगम प्रशासन ने ठेके की सफाई व्यवस्था को बंद कराकर दिल्ली नोएडा के लॉयन सर्विसेज को सड़कों, फुटपाथ और डिवाइडरों की सफाई और धुलाई कार्य का ठेका दे दिया। इसके पहले एमएसडब्ल्यू साल्यूशन को घर-घर कचरा संकलन का कार्य ठेके पर दिया गया था।

नाले-नालियों की सफाई के लिए 220 श्रमिक नियुक्त

नाले-नालियों की सफाई के लिए ठेकेदारों से 220 श्रमिक भी लिए गए हैं। सीएनडी वेस्ट से बनाई जा रही ईंट व टाइल्सः सड़कों के किनारे डंप बिल्डिंग वेस्ट को उठवाकर पंप हाउस में डंप करा वेस्ट बिल्डिंग मटेरियल को उपलब्ध उपकरण से क्रश कराकर छन्नी से छनवा ईंट, टाइल्स और पेवर ब्लाक का निर्माण कराने के लिए निगम के पंप हाउस में एक शेड के नीचे सीएनडी वेस्ट यूनिट बनाई है जहां रविवार से काम शुरू करा दिया है।

उत्पादित ईंट, टाइल्स और पेवर ब्लाक को रियायती दर पर बेचकर इससे राजस्व अर्जित करने की योजना तय की गई है। सुलभ शौचालयों की सुविधाओं में विस्तार शहर के चयनित 10 सुलभ शौचालयों में को विशेष शौचालय बनाने सुविधाओं में विस्तार किया गया है।

शौचालयों में सतत सफाई

गंदगी और बदबू को दूर करने के लिए सभी शौचालयों में सतत सफाई कराई जा रही है। हर शौचालय में एक्जास्ट फैन और हाथ सुखाने के लिए डायर मशीन लगवाया गया है। महिला साइड में पर्दा लगाकर सेनेटरी पैड मशीन और इसे नष्ट्र करने के लिए मिनी इंसीनिरेटर लगवाया गया है।

लगाया गया ऑनलाइन फीडबैक मशीन

इसके अलावा सभी शौचालयों में सफाई को लेकर आम नागरिकों से राय लेने के लिए ऑनलाइन फीडबैक मशीन लगवाया गया है। साथ ही पेट्रोल पंपों के शौचालयों को भी विशेष सुविधा के तहत आम नागरिकों के लिए खुला रखने निर्देश दिया गया है।

जीवीपी गारबेज बर्नरेबल प्वाइंट बनाया गया शहर भर में सड़कों के किनारे खाली प्लाट में डंप कचरे को हटवा कर इन स्थलों में क्यारी बनवा कर व रंग रोगन करवा पौधारोपण किया जा रहा है।

गार्डनिंग की गई है ताकि यहां कचरा डालने की प्रवृत्ति को बदला जा सके। इसके तहत सड़क किनारे राजेंद्र नगर चौक, अग्रसेन चौक, श्रीकांत वर्मा मार्ग और जगमल चौक समेत अन्य जगह खुले प्लाटों पर गार्डन विकसित कराकर यहां स्वच्छता का स्लोगन लिखवाया जा रहा है।

डे-नाइट स्वीपिंग और डोर टू डोर कचरा संकलन

एमएस डब्ल्यू सॉल्यूशन की गाडि़यों को डोर टू डोर कचरा कलेक्शन के कार्य में लगाया गया है। वहीं रात में श्रमिकों से सड़कों पर झाडू लगवाकर मशीन से सफाई और धुलाई कराई जा रही है। सफाई कार्य के बाद सड़क के किनारे फुटपाथ और डिवाइडरों को भी धुलवाया जा रहा है।

इस बार स्वच्छता रैंगिंग में शहर को पहले नंबर पर लाने के लिए कार्यक्रम बनाकर कार्य किया जा रहा है। अफसरों और कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है वे सफाई कार्य का जायजा ही नहीं नागरिकों से इसके संबंध में फीड बैक भी ले रहे हैं अच्छा फीड बैक आ रहा है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
स्वच्छताः देश में पहला स्थान पाने के लिए नगर निगम ने झोंकी ताकत
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags
Back to top button