संतोष साहू ने किया – महानदी की महिमा का बखान…

- दीपक वर्मा

राजिम: राजिम माघी पुन्नी मेला २०१९ मुख्य मंच पर संतोष कुमार साहू बेलटुकरी का छत्तीसगढ़ी गीत “मय महानदी के पानी आंव”‘ से दर्शक झुम उठे। उन्होने अपनी स्वरचित गीत जिसमें छत्तीसगढ़ की गंगा महानदी की महिमा की महत्ता को प्रस्तुत किया। गीत में महानदी उदगम से लेकर उसकी उपयोगिता का बखान किया। महानदी में कितने नदी मिलते है उनका वर्णन शिवनाथ नदी, खारुन नदी, अरपा नदी, हसदो नदी, जोंक नदी, तांदुला नदी, मनियारी नदी, पैरी नदी, सोढू नदी।

और कितने ही बांध जैसे गंगरेल, दुधावा, हीराकुंड। कितने धार्मिक स्थल तट पर है जो राजिम धमतरी, चंपारण, आरंग, महासमुंद, सिरपुर सिहावा ,सिरिंगी, दुरुग भिलाई, लोहा इस्पात सयंत्र शिवरीनारायन जूठा बेर सबरी का, चंद्रपुर। साथ ही ऋषियों, मुनियो की तप- जप की महिमा का बखान गीत के माध्यम से किया। और छत्तीसगढ़िया कितने बढिया है का बखान किया। और नया रायपुर में पुरखौती मुक्तांगन में मंत्रालय में जंगल सफारी में और बारी बखरी में महानदी की महिमा का जीवंत झाकी प्रस्तुत किया। छत्तीसगढ़ में महानदी का कितना महत्व है छोटे छोटे बच्चों ने अनुठा अभिनय करके दिखाया।

बाल कलाकारो ने अभिनय के साथ गायन एवं वादन में भी अपना जौहर दिलाया। गीत की प्रस्तुति पहली बार पंद्रह सालो की मेला में दफली मंजीरा घुंघरू गिलास चुमका खंजेरी की धुन ये हूआ है। एक सूर एक ताल में बच्चों ने समा बांधा। छत्तीसगढ़ के ३६ गढ किला महानदी के दोनो और बसे है इसलिए छत्तीसगढ नाम पडा है। महानदी के महिमा के साथ अंतिम कडी में अपनी रचना में उन्होंने उन पर हो रही प्रदूषण को बचाने का संदेश दिया।

यदि हम नहीं बचाते है तो संकट हम पर ही पडेगा का संदेश दिया। वैसे सतोष साहू गाड गिफटेड कलाकार है उन्होनें छतीसगढी फिल्म जो छतीसगढ की तीसरी फिल्म है “”मोर गंवई गांव” में अभिनय एवं डांस किया है। एलबम – “मया के दिवाना” में डांस किया। आकशवानी रायपुर में मिमिक्री, पशुपक्षी जीवजंतु की आवाज का प्रसारण किया।

साहित्यकार, पेंटर, मूर्ति कला, गार्डनिंग, डांसिग, अभिनय, गायंन, वादन, डायरेक्शन आदि की कला माँ की गोदी से ही पाया है। और अपनी कला को अपने तक नहीं रख कर बच्चों तक पहुचाने का कार्य कर रहा है। और छोटे छोटे देश के भविष्यों को बाटने का अनूठा प्रयास कर रहा है। ताकि लोक संस्कृति एवं कला को बच्चे पहचाने एवं उनको भविष्य में बचाये रखे।

1
Back to top button