सरफराज अहमद अब करेंगे टेस्ट की कप्तानी,चैंपियंस ट्रॉफी में भारत को हराने का मिला ईनाम

भारत को चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में 180 रनों से मात देने के बाद अब पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने सरफराज को टेस्ट टीम का भी कप्तान बनाने का फैसला किया है। मंगलवार को जब चैंपियंस ट्रॉफी जीतकर सरफराज अपने घर पहुंचे थे तो वहां भी लोगों की जमकर भीड़ लग गई थी। पूरे मुल्क ने अपने इस हीरो को सिर-आंखों पर बैठा लिया है।पाकिस्तान को पहली बार चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब दिलाने वाले कप्तान सरफराज अहमद को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने बड़ा ईनाम दिया है।
जब पीसीबी चेयरमैन शहरयार खान और कार्यकारी समिति के प्रमुख नजम सेठी चैंपियंस ट्राफी के लिए लंदन में थे तो औपचारिक रूप से सरफराज को टेस्ट कप्तान बनाने का फैसला ले लिया गया था। जब वह स्वदेश लौटेंगे तो पीसीबी चेयरमैन की घोषणा करना महज एक औपचारिकता है।
सरफराज अहमद ने 75 वनडे मैचों में 12 बार नाबाद रहते हुए 88.33 की स्ट्राइक के साथ 1644 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 2 शतक और 7 अर्धशतक भी जड़े। वहीं बात अगर टेस्ट की करें तो इस विकेटकीपर-बल्लेबाज ने 36 मैचों में 73.47 की स्ट्राइक के साथ 2089 रन बनाए। इस दौरान वह 3 शतक और 13 अर्धशतक लगा चुके हैं। बतौर विकेटकीपर वह टेस्ट में 95 कैच और 17 स्टंप आउट, जबकि वनडे में 71 कैच और 22 स्टंप आउट कर चुके हैं।
बता दें कि चैंपियंस ट्रॉफी -2017 के फाइनल मुकाबले में पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 4 विकेट खोकर 338 रन बनाए थे। टारगेट का पीछा करते हुए भारत महज 158 रन ही बना सका। भारत की आधी टीम महज 54 रन पर पवेलियन लौट गई। भारत की ओर से सबसे अधिक हार्दिक पांड्या ने 76 रन बनाए। हार्दिक पांड्या के अलावा भारत का कोई भी बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर सका। पाकिस्तान की ओर से मोहम्मद आमिर और हसन अली ने 3-3 विकेट झटके। उनके अलावा शादाब खान 2, जबकि जुनैद खान 1 सफलता हासिल करने में कामयाब रहे।

Back to top button