समाज को लेकर जातिगत टिप्पणी का आरोपी सरपंच पहुंचा जेल

नहीं मिली जमानत, थाने में किया सरेंडर

जशपुर। जशपुर जिले के पत्थलगांव के ब्राह्मण एवं गुप्ता समाज के ऊपर जातिगत अभद्र टिप्पणी करने के मामले के आरोपी सरपंच को आखिरकार जेल की हवा खानी ही पड़ी। मामले की गम्भीरता को देखते हुए कोर्ट ने आरोपी की जमानत नामंजूर कर दी। मामला पत्थलगांव थाना क्षेत्र के मुडापारा पंचायत का है।

जानकारी के मुताबिक मुडापारा पंचायत सुरेन्द्र तिर्की ने बीते पांच माह पूर्व अपने मोबाइल से वाट्सअप ग्रुप बनाया था जिस ग्रुप का नाम आदर्श ग्राम मुड़ापारा था। इस ग्रुप का एडमिन भी स्वयं सरपंच सुरेंद्र तिर्की था। सरपंच सुरेंद्र तिर्की के द्वारा वाट्सअप ग्रुप पर ब्राह्मण एवं गुप्ता समाज को लेकर कुछ अभद्र टिपणी की गई थी। जिसकी वजह से ब्राम्हण एवं गुप्ता समाज के लोगों ने सरपंच के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग की थी। पत्थलगांव पुलिस ने इस मामले पर कार्यवाही करते हुए धारा 153अ व 295 के तहत मामला पंजीबद्ध किया था।

आरोपी सरपंच पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया था और अग्रिम जमानत के लिए कोशिश में लगा था। जमानत नहीं मिलने पर आरोपी ने पुलिस के सामने आत्म समर्पण कर दिया। जिसके बाद पुलिस ने उसे अदालत में पेश किया जहां से उसे जेल दाखिल कर दिया गया है।

1
Back to top button