राष्ट्रीय

शशिकला के पति में ट्रांसप्लांट किया गया ‘ब्रेनडेड’ मजदूर का किडनी-लीवर

जेल की सजा काट रहीं अन्नाद्रमुक की नेता वीके शशिकला के पति एम नटराजन का गुर्दा और यकृत प्रतिरोपित करने के लिए सर्जरी की गई. यह जानकारी बुधवार को उनके रिश्तेदार और पार्टी सदस्य टीटीवी दिनाकरण ने दी है. नटराजन का पिछले कुछ दिनों से कॉर्पोरेट अस्पताल में इलाज चल रहा था. दिनाकरण ने अस्पताल पहुंचने से पहले संवाददाताओं को बताया, ‘मुझे सूचना मिली है कि गुर्दा और यकृत प्रतिरोपण के लिए अंकल की सर्जरी की गई है.’ शशिकला ने कर्नाटक जेल प्राधिकरण से 15 दिन के पैरोल की अनुमति मांगी थी लेकिन तकनीकी कारणों से उनकी यह याचिका खारिज कर दी गई.

खबर की पुष्टि करते हुए दिनाकरण ने कहा कि उनके वकीलों ने उन्हें बताया कि पैरोल की उनकी याचिका को ‘अपर्याप्त विवरण के कारण खारिज कर दिया गया.” उन्होंने कहा, “अगर वह सही तरीके से (जरूरी दस्तावेजों के साथ) पैरोल की अर्जी फिर से देंगी तो मुझे पूरा विश्वास है कि उन्हें पैरोल मिल जाएगी.’

आय के ज्ञात स्रोत से अधिक की संपत्ति रखने के मामले में, उच्चतम न्यायालय ने निचली अदालत द्वारा उनको दी गई चार साल की कैद की सजा को बरकरार रखा था जिसके बाद शशिकला ने फरवरी में स्थानीय अदालत के सामने आत्मसमर्पण कर दिया था.

द न्यूज मिनिट की एक रिपोर्ट में जिक्र किया गया है कि ग्लेनीगल्स ग्लोबल हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने मंगलवार देर रात दोहरे ऑर्गन ट्रांसप्लांट के लिए नटराजन को तैयार किया था और सर्जरी चल रही है. अब सवाल उठता है कि उन्हें डोनर कहां से मिला? इस सवाल का जवाद देते हुए टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट ने कहा है कि डॉक्टरों ने नटराजन के लिए मैचिंग डोनर तंजावुर के एक अस्पताल में भर्ती गंभीर रूप से घायल किशोर के तौर पर पाया जिसके बाद उसे चेन्नई के लिए एयर लिफ्ट करवाया गया.

चार अक्टूबर को ही अंग्रेजी अखबार में छपी खबर के मुताबिक ‘मेडिकल सलाह पर मजदूर डिस्चार्ज, चेन्नई भेजा गया’. यह कोई और नहीं बल्कि वही शख्स है जिसे ब्रेन डेड घोषित किया गया था.

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *