सऊदी अरब ने मिस्र को 2-1 से दी मात, जीत के साथ किया टूर्नामेंट का अंत

रूस : फीफा विश्व कप में सोमवार को सऊदी अरब ने ग्रुए ए के अपने अंतिम मुकाबले में मिस्र को 2-1 से हराकर जीत के साथ अपने विश्व कप अभियान का समापन किया। सऊदी अरब की टूर्नामेंट के 21वें संस्करण में यह पहली जीत है।

वोल्गोग्राड ऐरेना में खेले गए मुकाबले में सऊदी अरब ने उम्मीद से बेहतर शुरुआत की और आठवें मिनट में ही कॉर्नर अर्जित किया। हालांकि, मिस्र के डिफेंस ने सऊदी अरब को शुरुआती बढ़त नहीं बनाने दी।

शुरुआती झटके के बाद मिस्र ने अपने खेल को बेहतर किया। मिस्र के शानदार डिफेंस के कारण सऊदी अरब के खिलाड़ियों ने लंबी दूरी से गाले करने का प्रयास किया लेकिन वह कामयाब नहीं हो पाए।

मैच के 22वें मिनट में अबदल्लाह अल साइद ने हाफ लाइन के पास से मिस्र के स्टार फारवर्ड मोहम्मद सलाह हो पास दिया जिन्होंने गेंद पर अच्छा नियंत्रण बनाया और गोकलीपर के ऊपर से चिप करके अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी। पिछले कुछ समय से कंधे की चोट से जूझ रहे सलाह का विश्व कप में यह दूसरा गोल है।

पहला गोल दागने के दो मिनट बाद सलाह को मिस्र की बढ़त को दोगुना करने का शानदार मैका मिला। सलाह ने एक बार फिर बॉक्स के पास गेंद पर बेहतरीन नियंत्रण बनाया और गोलकीपर के ऊपर से चिप करके गोल करने की कोशिश की लेकिन वह गेंद को गोल में नहीं डाल पाए।

सऊदी अरब को 41वें मिनट में पेनाल्टी के जरिए गोल दागने का मौका मिला लेकिन विश्व कप में भाग लेने वाले उम्रदराज खिलाड़ी मिस्र के 45 वर्षीय गोलकीपर एसाम अल हादरी ने अपनी दाईं ओर कूदते हुए शानदार बचाव किया। हलांकि, वह ज्यादा देर तक अपनी टीम की बढ़त को कायम नहीं रख पाए।

पहले हाफ के इंजुरी टाइम (51वें मिनट) में सलमान अल-फराज ने पेनाल्टी के जरिए गोल दागकर अपनी टीम को बराबरी दिला दी।

Back to top button