स्कूल शिक्षा मंत्री ने स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल का किया शुभारंभ

शिक्षा विकास का माध्यम: मंत्री डॉ.प्रेमसाय सिंह टेकाम

रायपुर, 13 जुलाई 2021 : स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ.प्रेमसाय सिंह टेकाम ने आज रायपुर के अभनपुर में स्वामी आत्मानंद शासकीय उत्कृष्ट इंग्लिश मीडियम स्कूल का शुभारंभ किया। उन्होंने इस अवसर पर विद्यालय में नव प्रवेशित प्रथम बच्चे का नाम अपने हाथ से दाखिला पंजी में दर्ज किया। सभी नव प्रवेशित बच्चों को मिष्ठान खिलाकर उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। मंत्री डॉ.टेकाम ने स्कूल के बच्चों को पाठ्य पुस्तकों का सेट भी प्रदान किया।

विद्यालय में अब तक 375 बच्चों ने प्रवेश लिया है और इसके भवन का जीर्णोंद्धार 55 लाख रूपए की राशि से किया गया। कार्यक्रम में पूर्व मंत्री एवं विधायक अभनपुर धनेन्द्र साहू, नगर पंचायत अध्यक्ष कुंदन बघेल, जनपद पंचायत अध्यक्ष देवनंदनी साहू, नगर पंचायत के पार्षद, जिला शिक्षा अधिकारी ए.एन.बंजारा सहित जिला प्रशासन के अधिकारी, स्कूल के प्राचार्य, शिक्षक और नवप्रवेशित बच्चे उपस्थित थे।

स्वामी आत्मानंद शासकीय उत्कृष्ट इंग्लिश मीडियम स्कूल का शुभारंभ 

स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ.टेकाम ने स्वामी आत्मानंद शासकीय उत्कृष्ट इंग्लिश मीडियम स्कूल के शुभारंभ और जीर्णोंद्धार कार्यक्रम में कहा कि शिक्षा विकास का माध्यम है। जहां-जहां शिक्षा के दीप जलते है, वहां-वहां विकास की लौ जगमगाती है। उन्होंने कहा कि अंग्रेजी माध्यम की शिक्षा आज समय की मांग है। अंग्रेजी वैश्विक भाषा है। खासकर वैज्ञानिक, मेडिकल, इंजीनियरिंग पढ़ाई में अंग्रेजी का महत्व अधिक है।

अंग्रेजी अच्छी तरह से नही जानने के कारण बच्चे वैश्विक प्रतियोगिता में शामिल नही हो पाते। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने विचार किया कि गांव-गरीब का बच्चा भी अंग्रेजी माध्यम स्कूल में पढ़ सके। इसके लिए हमारी सरकार ने प्रदेश भर में सरकारी अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोलने का निर्णय लिया है। प्रथम चरण में गतवर्ष प्रदेश में 52 अंग्रेजी माध्यम के स्कूल खोले गए। इस वर्ष 119 अंग्रेेजी माध्यम स्कूल खोले गए हैं।

वर्तमान में प्रदेश में 171 उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल संचालित हो रहे हैं। इन विद्यालयों में पर्याप्त संसाधन जैसे-भवन, पुस्तकालय, प्रयोगशाला, आधुनिक क्लास रूम उपलब्ध कराए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सोच है कि डीएमएफ की राशि का उपयोग शिक्षा और स्वास्थ्य की सुविधा को बढ़ाने में किया जाए। इन स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के लिए एक समान गणवेश, लोगो, बैच निर्धारित किया गया है। बच्चों को पढ़ाने के लिए अच्छे शिक्षकों की भर्ती की जा रही है।

मंत्री डॉ.टेकाम ने कहा

मंत्री डॉ.टेकाम ने कहा कि गतवर्ष संचालित 52 स्कूलों में 20 हजार 82 बच्चे अध्ययन कर रहे हैं और 1702 शिक्षक अध्यापन का कार्य कर रहे हैं। इस वर्ष से संचालित हो रहे 119 स्कूलों में बच्चों को 31 जुलाई तक प्रवेश दिया जाएगा। शिक्षकों की भर्ती की प्रक्रिया जारी है। कक्षा 8वीं तक गणवेश व पुस्तक उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने अभनपुर नगर में स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल के शुभारंभ पर सभी को बधाई और शुभकामनाएं दी।मंत्री डॉ.टेकाम ने कहा कि कोरोना के कारण बच्चों की पढ़ाई के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन पढ़ाई कराई जा रही है।

मोहल्ला क्लास पढ़ई तुंहर द्वार के माध्यम से इन्हें संचालित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि महतारी दुलार योजना के अंतर्गत कोरोना महामारी से दिवंगत हुए माता-पिता की संतानों को छात्रवृत्ति और निःशुल्क शिक्षा दी जाएगी। इनके द्वारा मांग करने पर अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों में भी प्रवेश दिया जा रहा है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए पूर्व मंत्री एवं विधायक धनेन्द्र साहू ने कहा कि विकासखण्ड मुख्यालय अभनपुर में शासन की अभिनव योजना के तहत स्वामी आत्मानंद शासकीय उत्कृष्ट अंग्रेजी मीडियम स्कूल का शुभारंभ हुआ है, जो अभनपुर विधानसभा क्षेत्र का पहला शासकीय अंग्रेेजी माध्यम स्कूल है। उन्होंने इसके लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और स्कूल शिक्षा मंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि अब इस स्कूल में गांव-गरीब और सामान्य परिवार के बच्चे भी पढ़ाई कर सकेंगे। कार्यक्रम को अभनपुर के नगर पंचायत अध्यक्ष कुंदन बघेल, जनपद पंचायत अध्यक्ष देवनंदनी साहू और शाला प्रबंधन एवं विकास समिति के अध्यक्ष रेवती यादव ने भी सम्बोधित किया।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button