छत्तीसगढ़

स्कूल की छात्राओं ने तहसीलदार से प्राचार्य की शिकायत की

ब्यूरो रिपोर्ट-रितेश गुप्ता

पसान: पसान के शासकीय कन्या शाला की प्राचार्य एक बार फिर विवादों में आ गई है। स्कूल की छात्राओं ने तहसीलदार से प्राचार्या की शिकायत की हैं। छात्राओं का कहना है कि प्राचार्य उन्हें बेवजह परेशान करती हैं। बेल्ट व टाई के नाम पर अतिरिक्त पैसे लिए जा रहे हैं। इतना ही नहीं मध्यान भोजन की गुणवत्ता भी सही नहीं है। तहसीलदार ने मामले में उचित कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है।

स्कूल की छात्राओं ने तहसीलदार से प्राचार्य की शिकायत की

जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में सरकारी शिक्षा व्यवस्था की बदहाली किसी से छिपी नहीं है। बावजूद इसके व्यवस्था को सुधारने के बजाय बिगाड़ने का काम किया जा रहा है।

पसान के शासकीय कन्या शाला में कुछ ऐसा ही मामला सामने आया है। जहाँ छात्राएं प्राचार्य से काफी परेशान है प्राचार्य ने उन्हें इस कदर परेशान किया है कि वे उनकी शिकायत लेकर तहसीलदार के पास पहुंच गई। छात्राओं ने तहसीलदार को अपनी व्यथा सुनाते हुए कहा कि टाई और बेल्ट के नाम पर उनसे अतिरिक्त पैसे लिए जा रहे हैं । प्राचार्य नियमित रूप से स्कूल भी नहीं आती हैं मध्यान भोजन की गुणवत्ता को सुधारने का प्रयास नहीं किया जा रहा , इतना ही नहीं सभी विषयों के शिक्षक भी नहीं है जिससे उन्हें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है

स्कूली छात्राओं की शिकायत को तहसीलदार ने गंभीरता से लिया और जल्द ही इनका निराकरण करने का आश्वासन भी दिया है इतना ही नहीं प्राचार्य को भी फटकार लगाने की बात उन्होंने कही ।

मध्यान्ह भोजन की गुणवत्ता संबंधित शिकायत को स्कूल शिक्षा समिति की अध्यक्ष ने भी संज्ञान में लिया ।
मामले की जांच करने की बात कही है जांच के दौरान शिकायत सही पाई जाती है तो वर्तमान स्व सहायता समूह को हटाकर दूसरे समूह को नियोजित किया जाएगा।

स्कूल के प्राचार्य के खिलाफ इससे पहले भी छात्राओं ने मोर्चा खोला था प्राचार्य के नियमित स्कूल आने की मांग को लेकर छात्राओं ने सड़क पर बैठकर धरना प्रदर्शन किया था जिसके बाद जिला शिक्षा अधिकारी के आश्वासन पर प्रदर्शन समाप्त किया गया था एक बार फिर से वही समस्या फिर से खड़ी हो गई है देखने वाली बात यह होगी कि प्राचार्य के खिलाफ किस तरह की कार्रवाई होती है..

Tags
Back to top button