अवैध फैक्ट्रियों के खिलाफ सीलिंग, ख़त्म हुई मोहलत

फैक्ट्रियों पर ताला जड़ने की शुरुआत सोमवार से होने जा रही है।

नई दिल्ली : हाल ही में दिल्ली राज्य औद्योगिक और बुनियादी ढांचा विकास निगम (डीएसआईआईडीसी) ने सभी नगर निगम को ये रिपोर्ट भेजी है। इसमें अकेले पूर्वी दिल्ली में 10 हजार से ज्यादा अवैध फैक्ट्रियों की पुष्टि की गई है।

सूत्रों की मानें तो इन फैक्ट्रियों पर ताला जड़ने की शुरुआत सोमवार से होने जा रही है। पूर्वी दिल्ली नगर निगम ने विश्वास नगर इलाके में कई वर्षों से चल रहीं 2 हजार फैक्ट्रियों को 48 घंटे की मोहलत देते हुए सीलिंग का नोटिस दिया है। ये मोहलत 12 अगस्त तक दी गई थी।

इसलिए 13 अगस्त की सुबह से सुप्रीम कोर्ट की निगरानी समिति की अगुवाई में निगम टीम सीलिंग कार्रवाई करेगी। पूर्वी दिल्ली नगर निगम के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कुछ समय पहले डीएसआईआईडीसी ने भेजी रिपोर्ट में दिल्ली में 51 हजार अवैध फैक्ट्रियां होने की बात कही है।

इसमें सबसे ज्यादा 11,805 फैक्ट्रियां पूर्वी दिल्ली में हैं। जबकि 10,023 दक्षिणी और 9,522 अवैध फैक्ट्रियां उत्तरी दिल्ली क्षेत्र में हैं। एक सर्वे के जरिए इन फैक्ट्रियों की पहचान की जा रही है। मास्टर प्लान 2021 के नियमों का उल्लंघन करने वाली इन फैक्ट्रियों को सील किया जाएगा।

दरअसल सीलिंग नोटिस मिलने के बाद विश्वास नगर के व्यापारियों ने मिलकर सुप्रीम कोर्ट में राहत की गुहार लगाई थी, लेकिन दो दिन पहले ही इस सुनवाई में कोर्ट ने व्यापारियों से सीलिंग रोकने अथवा कुछ समय आगे नहीं बढ़ाने का फैसला लिया। कोर्ट का कहना है कि दिल्ली में किसी भी तरह की अवैध संपत्ति को बर्दास्त नहीं किया जाएगा।

खत्म हुई मोहलत, दिल्ली पुलिस भी तैयार
निगरानी समिति के एक सदस्य ने बताया कि काफी समय से दिल्ली में सीलिंग की कार्रवाई नहीं हुई है। दिल्ली पुलिस और निगम की वजह से कोर्ट को गुमराह किया जा रहा था, लेकिन अब इस पर सख्ती बरती गई है। व्यापारियों को दी मोहलत खत्म हो चुकी है। सोमवार से सभी अवैध फैक्ट्रियों के खिलाफ सीलिंग शुरू होगी।

आधे से ज्यादा खाली हुआ विश्वास नगर
रविवार को सीलिंग नोटिस और उसके बाद सुप्रीम कोर्ट का सख्त रुख मिलने के बाद व्यापारियों ने फैक्ट्रियों से सामान शिफ्ट करना शुरू कर दिया। शाम होते होते तक आधे से ज्यादा विश्वास नगर की अवैध फैक्ट्रियां खाली हुईं। निगम अधिकारियों की मानें तो खाली फैक्ट्रियों को भी सील किया जाएगा।

Tags
Back to top button