छत्तीसगढ़

रविन्द्र भवन के टैगोर हॉल में मनाया गया एसईसीएल का स्थापना दिवस

150 मिलियन टन क्लब में शामिल होने वाली पहली कम्पनी है एसईसीएल

रायपुर: भारत की सबसे बड़ी कोयला उत्पादक कंपनी साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड एसईसीएल का स्थापना दिवस रायपुर के वसंत विहार स्थित रविन्द्र भवन के टैगोर हाॅल में मनाया गया.
कार्यक्रम की अध्यक्षता सह प्रबंध निदेशक एपी पण्डा के मुख्य अतिथि, निदेशक (कार्मिक) डाॅ. आरएस झा, मुख्य सतर्कता अधिकारी बीपी शर्मा, निदेशक तकनीकी (संचालन) आरके निगम, निदेशक तकनीकी (योजना/परियोजना) एमके प्रसाद,

निदेशक (वित्त) एसएम चौधरी, महाप्रबंधक (कार्मिक/प्रशासन) एके सक्सेना, पूर्व निदेशक तकनीकी एलके श्रीवास्तव, एनके सिंह, सीएल श्रीवास्तव, पूर्व निदेशक (कार्मिक) केके श्रीवास्तव, आरएस सिंह, एसईसीएल संचालन समिति के महेन्द्रपाल सिंह (बीएमएस), के. पाण्डेय (सीएमओएआई), एसईसीएल कल्याण बोर्ड के टिकेश्वर सिंह राठौर (बीएमएस), एसईसीएल सुरक्षा समिति के आनंद मिश्रा (एचएमएस),

बी. धर्माराव (एटक), व्ही.एम. मनोहर (सीटू), शिव कुमार दुबे (बीएमएस) एवं विभिन्न क्षेत्रों से आए अधिकारी-कर्मचारीगण व स्थानीय नागरिकगण की उपस्थिति में एसईसीएल स्थापना दिवस सोल्लास मनाया गया.

एसईसीएल का स्वर्णीम इतिहास

निदेशक (कार्मिक) डाॅ. आर.एस. झा, मुख्य सतर्कता अधिकारी बी.पी. शर्मा, निदेशक तकनीकी (संचालन) आर.के. निगम, निदेशक तकनीकी (योजना/परियोजना) एम.के. प्रसाद, निदेशक (वित्त) एस.एम. चैधरी ने अपने-अपने सम्बोधन में कहा कि एसईसीएल का स्वर्णीम इतिहास रहा है.

एसईसीएल अपने स्थापना काल से ही नम्बर-1 कम्पनी रही है एवं 150 मिलियन टन क्लब में शामिल होने वाली पहली कम्पनी है. यहाॅं के अधिकारी-कर्मचारी, श्रमसंघ प्रतिनिधिगण एकजुटता से दिए गए निर्धारित लक्ष्य को अवश्य ही हासिल कर लेंगे.

एसईसीएल स्थापना दिवस की बधाई व शुभकामनाए

किसी भी संस्था के स्थापना दिवस के अवसर पर हम उस संस्था के स्वर्णीम इतिहास, वर्तमान उपलब्धियों एवं भविष्य की योजनाओं पर विचार करते हैं. आज के दिन इन बातों को विचार करते हुए हम एकजुटता से लक्ष्य प्राप्ति की ओर अग्रसर हों. अंत में सभी ने अपनी-अपनी ओर से एसईसीएल स्थापना दिवस की बधाई व शुभकामनाए दी.

पूर्व निदेशक तकनीकी एलके श्रीवास्तव, एनके सिंह, सीएल श्रीवास्तव, पूर्व निदेशक (कार्मिक) केके श्रीवास्तव एवं आरएस सिंह ने कहा कि प्रारंभ से ही एसईसीएल की गौरवमयी उपलब्धियाॅं रही हैं. एसईसीएल कम्पनी एवं उसके अधिकारी-कर्मचारी सभी की मेहनत और लगन से दिन-प्रतिदिन प्रगति की ओर अग्रसर होते रहें यही कामना है. अंत में उन्होंने इस आयोजन पर आमंत्रण के लिए प्रबंधन को धन्यवाद दिया.

इस अवसर पर एसईसीएल संचालन समिति के महेन्द्रपाल सिंह (बीएमएस), के. पाण्डेय (सीएमओएआई), एसईसीएल कल्याण बोर्ड के टिकेश्वर सिंह राठौर (बीएमएस), एसईसीएल सुरक्षा समिति के आनंद मिश्रा (एचएमएस), बी. धर्माराव (एटक), व्ही.एम. मनोहर (सीटू), शिव कुमार दुबे (बीएमएस) ने अपने-अपने सम्बोधन में कहा कि एसईसीएल स्थापना दिवस के अवसर पर हम यहाॅं उपस्थित हुए हैं, आज कम्पनी जिस शिखर पर है उसमें मेहनतकश मजदूर भाइयों का श्रम है जिन्हें शत्-शत् नमन करते हैं.

एसईसीएल मुख्यालय प्रशासनिक भवन प्रांगण में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि निदेशक (वित्त) एपी पण्डा, निदेशक तकनीकी (संचालन)आरपी ठाकुर, निदेशक (कार्मिक) डाॅ. आरएस झा ने विभागाध्यक्षों, श्रमसंघ प्रतिनिधियों, अधिकारियों-कर्मचारियों की उपस्थिति में मुख्यालय स्थित ’’शहीद स्मारक’’ पर पुष्पचक्र, डाॅ. बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा व खनिक की प्रतिमा पर पुष्पमाला अर्पित किए.

’’कोलइण्डिया कारपोरेट गीत’’

मुख्य अतिथि ने कोलइण्डिया ध्वज फहराया तत्पश्चात ’’कोलइण्डिया कारपोरेट गीत’’ बजाया गया. इस अवसर पर अपने सम्बोधन में मुख्य अतिथि निदेशक (वित्त) ए.पी. पण्डा ने उपस्थितों को बधाई देते हुए कहा कि पिछले 5 साल में एसईसीएल की एमओयू रेटिंग एक्सीलेंट रही है.

आज हमारी कंपनी 30 साल की हुई है. समय के साथ हमें पहचान भी मिली है और देश का भरोसा भी बढ़ा है. उन्होंने कहा हमारे उद्योग के विकास की आधार शक्ति एक कामगार की मेहनत है. उसका कल्याण और उसकी सुरक्षा, प्रबंधन का प्रथम हित है और हम इसके लिए प्रतिबद्ध हैं.

नई एम्बुलेन्स का फ्लेग आफ

एसईसीएल स्थापना दिवस हेतु आयोजित इस समारोह के आरंभ में मुख्य अतिथि अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक ने अपने निदेशक मण्डल एवं एसईसीएल संचालन समिति, कल्याण मण्डल, सुरक्षा समिति के सदस्यों की उपस्थिति में एसईसीएल के सभी 13 क्षेत्रों एवं मुख्यालय हेतु हायरिंग आधार पर अधिग्रहित 30 एम्बुलेन्स का फ्लेग आफ किया गया, जबकि इसी श्रृंखला की 22 अन्य एम्बुलेन्स पूर्व में ही क्षेत्रों को सौंपी जा चुकी है.

पूर्व निदेशक कार्मिकद्वय के.के. श्रीवास्तव व आर.एस. सिंह ने कहा कि प्रारंभ से ही एसईसीएल की गौरवमयी उपलब्धियाॅं रही हैं. एसईसीएल कम्पनी एवं उसके अधिकारी-कर्मचारी सभी की मेहनत और लगन से दिन-प्रतिदिन प्रगति की ओर अग्रसर होते रहें यही कामना है. अंत में उन्होंने इस आयोजन पर आमंत्रण के लिए प्रबंधन को धन्यवाद दिया .

एसईसीएल संचालन समिति के नाथूलाल पाण्डेय (एचएमएस), पी.के. राय (इंटक) ने कहा कि एसईसीएल स्थापना दिवस के अवसर पर हम यहाॅं उपस्थित हुए हैं, आज कम्पनी जिस शिखर पर है उसमें मेहनतकश मजदूर भाइयों का श्रम है जिन्हें शत्-शत् नमन करते हैं.

कार्यक्रम के प्रारंभ में मुख्य अतिथि एवं समस्त मंचस्थ अतिथियों द्वारा दीप-प्रज्ज्वलन किया गया. कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सहित विशिष्ट अतिथियों व मंचस्थ अतिथियों, एसईसीएल संचालन समिति, कल्याण समिति एवं सुरक्षा समिति के सदस्यों का शाल, श्रीफल व पुष्पहार से आत्मीय सम्मान किया गया.

स्वागत उद्बोधन महाप्रबंधक (उत्पादन) एनपी साहू ने किया. कार्यक्रम में सफलतापूर्वक उद्घोषणा का दायित्व सनीषचन्द्र सहायक प्रबंधक (राजभाषा/जनसंपर्क) एवं अर्चना सिंह कार्मिक अधिकारी (कल्याण) ने निभाया. अंत में उपस्थितों को धन्यवाद ज्ञापित प्रबंधक कार्मिक (अधिकारी स्थापना) अनुपमा आनंद टेम्भुर्णीकर ने किया.

सरस गज़ल व कव्वाली का आयोजन

इस अवसर वसंत विहार स्थित हेलीपेड ग्राऊण्ड पर प्रसन्ना जोशी, सोनाली दीक्षित, नाज़िरखान, सुरेश शर्मा (गिनीज बुक फेम), मो. साज़िद एवं टीम ने रंगारंग गजल, लोक गायन, सूफी गायन, कव्वाली का प्रदर्शन किया जिसे उपस्थितों ने अत्यंत सराहा श्रोतावृन्दों की फरमाईशों पर कलाकारों ने नए-पुराने गज़ल, कव्वाली भी प्रस्तुत किए .

श्रमवीर पुरस्कृत हुए

एसईसीएल वसंत विहार स्थित रविन्द्र भवन के टैगोर हाॅल में आज एसईसीएल स्थापना दिवस के अवसर पर मुख्य अतिथि अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक ए.पी. पण्डा, निदेशक (कार्मिक) डाॅ. आर.एस. झा, मुख्य सतर्कता अधिकारी बी.पी. शर्मा, निदेशक तकनीकी (संचालन)आर.के. निगम,

निदेशक तकनीकी (योजना/परियोजना) एम.के. प्रसाद, निदेशक (वित्त) एस.एम. चैधरी, महाप्रबंधक (कार्मिक/प्रशासन) ए.के. सक्सेना, पूर्व निदेशक तकनीकी एल.के. श्रीवास्तव, एन.के. सिंह, सीएल श्रीवास्तव, पूर्व निदेशक (कार्मिक) के.के. श्रीवास्तव, आर.एस. सिंह के करकमलों से निम्न श्रमवीरों को पुरस्कृत किया गया.

ओव्हरआल परफारमेन्स आफ एरिया-प्रथम-भटगांव एरिया, द्वितीय-हसदेव एरिया, तृतीय-कुसमुण्डा एरिया रहा. ओव्हरआल परफारमेन्स आफ ओपनकास्ट माईन-प्रथम-महान. ओसी, द्वितीय-कुसमुण्डा ओसी, तृतीय-मानिकपुर ओसी रहा.

ओव्हरआल परफारमेन्स आफ अण्डरग्राउण्ड माईन (मास प्रोडक्सन टेक्नाॅलाॅजी)-प्रथम-विजय वेस्ट यूजी, द्वितीय-हल्दीबाड़ी यूजी, तृतीय-बंगवार यूजी रहा. ओव्हरआल परफारमेंस आफ अण्डरग्राउण्ड माईन (सेमी मेकेग्नाईज्ड टेक्नाॅलाॅजी)-प्रथम-भटगांव यूजी, द्वितीय-राजनगर 4/5 यूजी, तृतीय-सिंघाली यूजी रहा.

अण्डरग्राऊण्ड माईन-बेस्ट एसडीएल आपरेटर-प्रथम- समरथ भटगांव यूजी भटगांव, द्वितीय- बजरंग प्रसाद बल्गी यूजी कोरबा, तृतीय- छंगू यादव मीरा यूजी जमुना कोतमा रहे. बेस्ट एलएचडी आपरेटर-प्रथम- प्रताप सिंह चरचा आरओ यूजी बैकुण्ठपुर, द्वितीय- राजनाथ कुरासिया यूजी चिरमिरी, तृतीय- देव साय गायत्री यूजी बिश्रामपुर रहे.

बेस्ट ड्रिलर-प्रथम

बेस्ट ड्रिलर-प्रथम- श्याम दास राजेन्द्रा यूजी सोहागपुर, द्वितीय- गुलाब कुरजा यूजी हसदेव, तृतीय- गुलजार विन्ध्या यूजी जोहिला रहे. बेस्ट यू.डी.एम. आपरेटर-प्रथम- महेश पाण्डवपारा यूजी बैकुण्ठपुर, द्वितीय- शिवा एनसीपीएच यूजी चिरमिरी, तृतीय- करन सिंघाली यूजी कोरबा रहे.

बेस्ट अण्डरग्राउण्ड वर्कर-प्रथम- रामनारायण कुरजा यूजी हसदेव, द्वितीय के.के. पटेल भद्रा 7/8 यूजी जमुना कोतमा, तृतीय- शिव बालक बगदेवा यूजी कोरबा रहे. ओपनकास्ट माईन-बेस्ट शावेल आपरेटर-प्रथम- आर.एन. पटेल गेवरा ओसी गेवरा,

लेखराम कौशिक कुसमुण्डा ओसी कुसमुण्डा

द्वितीय- लेखराम कौशिक कुसमुण्डा ओसी कुसमुण्डा, तृतीय- सी.बी. सिंह दीपका ओसी दीपका रहे. बेस्ट डम्पर आपरेटर-प्रथम- मुकुन्द सिंह कुसमुण्डा ओसी कुसमुण्डा, द्वितीय- शिव कुमार गेवरा ओसी गेवरा, तृतीय- नीलकंठ यादव दीपका ओसी दीपका रहे.

बेस्ट ड्रेगलाईन आपरेटर-प्रथम- आर.के. नामदेव धनपुरी ओसी सोहागपुर, दीप चन्द धनपुरी ओसी सोहागपुर, कृष्णा राव चिरमिरी ओसी चिरमिरी रहे. बेस्ट ड्रिल आपरेटर-प्रथम- शिवजी चिरमिरी ओसी चिरमिरी, द्वितीय- चुडामन धनपुरी ओसी सोहागपुर, तृतीय- रामसेवक महान ओसी भटगांव रहे. बेस्ट डोजर आपरेटर- प्रथम- रविन्द्र कुमार सिंह बिश्रामपुर ओसी, द्वितीय- अमरनाथ मानिकपुर ओसी कोरबा, तृतीय शेष कुमार महान ओसी भटगांव रहे.

Tags
Back to top button