तलाक दिए बिना रचाई दूसरी शादी, सास और पत्नी संग मिलकर किया जानलेवा हमला

पुलिस ने पति समेत तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

हरिद्वार के टांडा भागमल में एक व्यक्ति ने पहली पत्नी को तलाक दिए बिना ही दूसरी शादी रचा ली। इतना ही नहीं बाद में दूसरी पत्नी और सास के साथ मिलकर पहली पत्नी पर जानलेवा हमला कर दिया।

मामले में एसीजेएम कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने पति समेत तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। लक्सर कोतवाली क्षेत्र के टांडा भागमल निवासी विवाहिता बबली ने एसीजेएम कोर्ट में प्रार्थना पत्र देकर बताया था कि उनकी शादी लगभग 21 साल पहले बाला उर्फ पल्ला पुत्र प्रीतम के साथ हुई थी।

इस बीच दोनों के चार बच्चे भी हुए। उनका कहना है कि पति ने उसे तलाक दिए बिना ही एक अप्रैल 2017 को दूसरी शादी रचा ली। इसकी जानकारी उसे आठ अगस्त 2018 को हुई तो उसने पति से जानकारी की।

आरोप है कि इस पर उसने दूसरी पत्नी मीना और उसकी मां कमलेश के साथ मिलकर उस पर हमला बोल दिया। साथ ही मारपीट कर उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया। शोर सुनकर आसपास के ग्रामीण मौके पर पहुंचे।

>ग्रामीणों को देखकर आरोपी जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गए। आरोप है कि महिला ने घटना की तहरीर भिक्कमपुर चौकी पुलिस को दी, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

अब कोर्ट ने महिला के प्रार्थना पत्र पर सुनवाई करते हुए आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के आदेश कोतवाली पुलिस को दिए हैं। कोतवाल अमरचंद शर्मा ने बताया कि कोर्ट के आदेश पर बाला उर्फ पल्ला पुत्र प्रीतम, मीना पुत्री राजकुमार, कमलेश पत्नी राजकुमार के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।<>

Back to top button