बेगानी शादी में खाना चट कर गए दूसरी शादी के मेहमान

शालीमार गार्डन की गणेश पुरी में आर.डी. पंकज परिवार के साथ रहते हैं

>शालीमार गार्डन स्थित एक बैंक्वेट हॉल संचालक पर एक ही तारीख पर दो पार्टियों की बुकिंग कर ठगी करने का आरोप लगा है। आरोप है कि संचालक ने पहले आने वाली पार्टी को तय तारीख पर सिर्फ उन्हीं की बुकिंग होने की बात कही और शादी वाले दिन दूसरी पार्टी का शादी कार्यक्रम भी संपन्न करा दिया। इससे पहली वाली पार्टी को काफी परेशानी उठानी पड़ी। दूसरी पार्टी के मेहमान उनका खाना खत्म कर चले गए। इस वजह से पीड़ित परिवार को 3 बार खाना बनवाना पड़ा। आरोप है कि सोमवार को लड़की के पिता ने जब बैंक्वेट हॉल संचालक से शिकायत की तो उनके साथ मारपीट की गई। पीड़ित के 100 नंबर पर शिकायत देने के बाद से आरोपित संचालक फरार है।

जानकारी के अनुसार, शालीमार गार्डन की गणेश पुरी में आर.डी. पंकज परिवार के साथ रहते हैं। 17 नवंबर 2017 को उन्होंने शालीमार गार्डन में एक बैंक्वेट हॉल को बेटी की शादी के लिए बुक किया था। 18 फरवरी को बेटी की शादी थी। हॉल संचालक ने उन्हें बताया था कि 18 तारीख को सिर्फ उन्हीं की बुकिंग है। आरोप है कि शादी के दिन उन्हें पता चला कि बैंक्वेट हॉल में एक और शादी समारोह है और बारात आ रही है। इस दौरान उन्होंने अपने मेहमानों के लिए खाना शुरू कराया। इस दौरान दूसरी बारात के लोग भी रिसेप्शन में खाने के लिए आने लगे। जब खाना खत्म हो गया तब उन्हें इसकी जानकारी हुई।

पीड़ित ने बताया कि 25 फरवरी को वह अपने साथियों के साथ बैंक्वेट हॉल संचालक के बकाया रुपये लौटाने गए थे। इस दौरान उन्होंने संचालक से अव्यवस्था के दौरान हुए नुकसान की बात की तो आरोपित भड़क गया और उनके और उनके साथ गए लोगों के साथ मारपीट की। विरोध करने पर आरोपी ने जान से मारने की धमकी दी। उन्होंने 100 पर शिकायत दी तो संचालक मौके से फरार हो गया। पीड़ित ने साहिबाबाद पुलिस से मामले की शिकायत दी है। एसएचओ साहिबाबाद आर.के. सिंह ने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है।

50 साल में पहली बार हुई इतनी बदनामी
पीड़ित ने बताया कि करीब 50 साल की उम्र में उनकी पहली बार इतनी बेइज्जती हुई। उन्हें नहीं पता था कि बैंक्वेट हॉल संचालक उनके साथ ऐसा करेगा। शादी वाले दिन दूसरी शादी के मेहमानों ने उनके यहां का पूरा खाना खत्म कर दिया। इस वजह से उनके मेहमानों को काफी दिक्कत हुई। बेटी की बारात लेकर आए मेहमानों के सामने उन्हें शर्मिंदा होना पड़ा। जब तक उनके सारे मेहमानों ने खाना नहीं खा लिया, उन्हें खाना बनवाते रहना पड़ा। करीब 3 बार उन्हें अलग से खाने का ऑर्डर देना पड़ा।

400 के लिए बनवाया खाना, पहुंचे कहीं ज्यादा
पीड़ित ने बताया कि उन्होंने 400 मेहमानों के लिए खाना तैयार कराया था। इस दौरान खाना शाम साढ़े 7 बजे से शुरू हुआ। रात करीब 10:30 बजे उनकी बारात आई। खाना शुरू होने के करीब दो घंटे बाद ही उनका खाना खत्म होने लगा। इस दौरान उन्हें शक हुआ कि अभी उनकी बारात आई ही है और 400 लोगों का खाना इतनी जल्दी खत्म कैसे हो गया। इस दौरान उन्होंने मेहमानों की जानकारी ली तो पता चला का बैंक्वेट हॉल में दूसरी पार्टी के शादी समारोह भी चल रहा है और वहां के मेहमान उनके रिसेप्शन में आकर खाना खा रहे हैं।

new jindal advt tree advt
Back to top button