छत्तीसगढ़बड़ी खबरराज्य

प्रभारी सचिव ने किया धान खरीदी केन्द्रों का निरीक्षण

बारिश से बचाव के हरसंभव उपाय करने के निर्देश

कसडोल से प्रकाश यादव

कसडोल : जल संसाधन विभाग के सचिव एवं जिले के प्रभारी सचिव अविनाश चम्पावत ने आज जिले की 5 धान खरीदी केन्द्रों -चंदेरी, तरेंगा, अर्जुनी, अमेरा और पलारी का आकस्मिक निरीक्षण किया।

उन्होंने मौसम में आये अचानक बदलाव के मद्देनजर तमाम धान की स्टेकिंग को पानी से बचाव करने के सख्त निर्देश दिये। श्री चम्पावत ने धान बेचने आये कुछ किसानों और हमालों से भी चर्चा कर प्रशासनिक व्यवस्था की जानकारी ली।

प्रभारी सचिव ने किया धान खरीदी केन्द्रों का निरीक्षण
प्रभारी सचिव चम्पावत ने पलारी स्थित धान खरीदी केन्द्र में नमी मापन यंत्र के नियमित इस्तेमाल नहीं होने पर नाराजगी प्रकट करते हुए फड़ प्रभारी को चेतावनी दी। उन्होंने अमेरा और पलारी में हमालों की दक्षता पर प्रसन्नता जाहिर की।

प्रभारी सचिव ने खरीदी केन्द्रों पर बारदानों का सत्यापन भी किया। उन्होंने अपने भ्रमण के दौरान प्रमुख तौर से खरीदे गये धान की मात्रा, मिल को जारी धान की मात्रा, संग्रहण केन्द्रों को जारी धान की मात्रा, खरीदी केन्द्र पर वर्तमान में उपलब्ध धान, खरीदे गये धान की कुल राशि, ऋण के विरूद्ध वसूल की गई राशि, धान का भुगतान, लाभान्वित किसानों की संख्या आदि की जानकारी ली और व्यवस्था के प्रति संतोष प्रकट किया।

प्रभारी सचिव ने कहा कि छोटे और सीमान्त किसानों को धान खरीदी में प्राथमिकता दिया जाना चाहिये। डिप्टी कलेक्टर एवं खाद्य शाखा के प्रभारी राकेश कुमार गोलछा, एसडीएम लवीना पाण्डेय, एएफओ अनिल जोशी सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

नगद संगवारी के काम-काज की प्रशंसा

प्रभारी सचिव अविनाश चम्पावत ने भ्रमण के दौरान अर्जुनी में नगद संगवारियों से भी मुलाकात कर उनके काम-काज की जानकारी ली। जिला प्रशासन की पहल पर जिले में नगद संगवारी योजना 2 अक्टूबर से लागू की गई है। यह एक तरह से ये चलते-फिरते एटीएम की तरह है। फिलहाल बुजुर्ग हितग्राहियों को उनके घर पहुंचकर उनके पेशन भुगतान किया जा रहा हैं।

योजना के क्रियान्वयन होने से जिले में पेंशन नहीं मिलने की शिकायत कम हुई है। उप संचालक समाज कल्याण आशा शुक्ला ने नगद संगवारी योजना की अवधारणा और काम-काज से प्रभारी सचिव को अवगत कराया। प्रभारी सचिव के समक्ष नगद संगवारी मनोज धु्रव ने हितग्राही फिरतीन बाई ग्राम अर्जुनी को 500 रूपये का भुगतान किया।

श्री चम्पावत ने नगद संगवारी योजना की प्रशंसा करते हुए दूरस्थ जिलों में भी लागू करने की मंशा जताई।

प्रभारी सचिव ने किया धान खरीदी केन्द्रों का निरीक्षण

 

Tags
Back to top button