दुबई एयरपोर्ट पर सिक्योर पैसेंजर स्कैनिंग तकनीक लगेगी

जालंधर : विदेश जाने से पहले व्यक्ति के सामान व उसकी जांच की जाती है ताकि कोई भी गैरकानूनी तरीके से कहीं आ-जा न सके। ऐसे में दुबई जैसी मशहूर जगह पर साल दर साल आने वाले व प्रस्थान करने वाले यात्रियों की संख्या में इजाफा हो रहा है। अगर ऐसा ही चलता रहा तो साल 2020 तक यात्रियों की संख्या 124 मिलियन तक बढ़ सकती है।

इसी बात पर ध्यान देते हुए कम समय में ज्यादा यात्रियों के प्रस्थान करने व उनकी स्कैनिंग करने के लिए दुबई इंटरनैशनल एयरपोर्ट ने फेशियल रिकोग्नीशन तकनीक से युक्त एक ऐसा वर्चुअल एक्वेरियम बनाया है जो कुछ ही सैकेंड्स में 80 कैमरों से यात्री की स्कैनिंग करेगा।

यह वर्चुअल एक्वेरियम टनल यात्री के चलने पर कुछ सैकेंडों में ही उसकी आंखों व चहरे की स्कैनिंग करेगा जिससे कम समय में ज्यादा यात्रियों की चैकिंग करना सम्भव हो जाएगा।

सुरंग में दिखाई जाएंगी हाई रैजोल्यूशन तस्वीरें
सुरंग की तरह बनाए गए इस वर्चुअल एक्वेरियम टनल में हाई रैजोल्यूशन की तस्वीरें, सीनरीज़ व विज्ञापन दिखाएं जाएंगे। जैसे ही यात्री इस सुरंग के आखिर तक पहुंचेगा तो उसके रजिस्टर होने पर ग्रीन मैसेज के साथ हैव-ए-नाइस-ट्रिप शो होगा और अगर व्यक्ति किसी केस में गुनहगार है या फिर अपराधी है तो यह रैड सिग्नल देने के साथ सिक्योरिटी को अलर्ट भी करेगा।

Back to top button